सेबी ने लगाई इन दो कंपनियों के शेयर्स की ट्रेडिंग पर रोक

  • सेबी ने लगाई इन दो कंपनियों के शेयर्स की ट्रेडिंग पर रोक
You Are HereLatest News
Thursday, November 09, 2017-1:14 PM

नई दिल्लीः बाजार नियामक सेबी ने दो कंपनियों सुरक्षा फैमली सर्विसेज और रिजू सीमेंट और इनके छह मौजूदा निदेशकों को सिक्योरिटी मार्कीट से बैन कर दिया है। इनपर लोगों से अवध तरीके पैसे जुटाने का आरोप है साथ ही नियामक ने दोनों कंपनियों और इनके निदेशकों से उन निवेशकों से जुटाए गए पैसों को वापस करने का आदेश दिया है, जिसे नियमों की अनदेखी कर प्राप्त किया गया था।

सुरक्षा फैमली सर्विसेज (एसएफएसएल) ने वर्ष 2007-08 और 2008-09 के दौरान 1804 निवेशकों से रीडिमेबल प्रेफरेंस शेयर्स (आरपीएस) के जरिए 82.30 लाख रुपए जुटाए हैं जबकि रिजू सीमेंट ने वर्ष 2009-10 और 2010-11 के दौरान 539 निवेशकों को नॉन कंवर्टिबल डिबेंचर्स एलॉट कर 39.15 लाख रुपए जुटाए हैं। सेबी ने इस संबंध में 7 नवंबर को दो ऑर्डर जारी किये हैं।

प्रत्येक कंपनी ने 50 से अधिक लोगों को यह शेयर्स जारी किये है। जबकि इसके लिए स्टॉक एक्सचेंज पर इन सिक्योरिटीज की लिस्टिंग अनिवार्य होती है। एसएफएसएल और आरसीएल ने इस प्रावधान का पालन नहीं किया है। इसके अतिरिक्त कंपनियों के लिए कंपनीज एक्ट के तहत रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) के पास प्रोस्पेक्टस रजिस्टर कराना जरूरी होता है। यह कंपनियां ऐसा करने में विफल रही हैं। सेबी ने जिन एसएफएसएल के मौजूदा निदेशकों को बैन किया है उनमें इंद्रानिल दास, अरुणाभा मुख्योपाध्याय और सुब्रत दास शामिल है। वहीं, आरसीएल के निदेशकों में कनिका मैती, अनुकुल मेती और स्वप्न रॉय शामिल हैं।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You