Subscribe Now!

बृहस्पतिवार स्पैशल: रूका-रूका व्यापार चढ़ेगा परवान, मिलेंगे और भी ढेरों लाभ

  • बृहस्पतिवार स्पैशल: रूका-रूका व्यापार चढ़ेगा परवान, मिलेंगे और भी ढेरों लाभ
You Are HereDharm
Wednesday, January 17, 2018-1:56 PM

कम ही लोग जीवन में धनार्जन कर सफलता का स्वाद चख पाते हैं। धनार्जन ही सफलता का सबसे सटीक मार्ग है। देवगुरु बृहस्पति समृद्धि के देवता हैं। कुण्डली में बृहस्पति की अच्छी स्थिति व्यक्ति को समृद्धि के मार्ग पर ले जाती है। ये उपाय देंगे ढेरों लाभ-


रूका-रूका व्यापार चढ़ेगा परवान: गुरूवार के दिन एक पानी वाला नारियल, एक जोड़ी जनेऊ और सवा पाव पीले रंग की मिठाई खरीद कर उसे सवा मीटर चमकीले पीले रंग के कपड़े में लपेट दें। अब इसे भगवान श्री हरि विष्णु के मंदिर में रख आएं। ध्यान रखें पीछे मुड़कर न देखें।

 


क्रोध होगा ठंडा: बुधवार को नारियल खरीद कर रात को सोते वक्त उसे अपने सिरहाने के पास रखें। बृहस्पतिवार की सुबह शुद्ध होकर स्वच्छ वस्त्र पहनकर श्री गणेश मंदिर में इस नारियल को चढ़ा दें।

 


टैंशन फ्री करेगा ये दान: सूखा नारियल लें उसे बीच में से खोखला करें उसमें 5 प्रकार के मेवे, 5 रूपए का सिक्का और चीनी का बुरादा डाल दें। ऊपर से नारियल को ढक दे। फिर पीपल के पेड़ पास जाएं हाथ जितना गड्डा खोदकर उसमें नारियल दबा दें। 


बृहस्पतिवार को पहनें पुखराज: नग राशि, दशा, समस्या व लगन के अनुसार कमजोर ग्रहों को बलवान करने के उद्देश्य से पहने जाते हैं। यदि गुरु नीच राशि का है और विवाह में विलंब है तो पुखराज पहनने की सलाह दी जाती है। पुखराज को बृहस्पतिवार के दिन सोने की अंगूठी में जड़वाएं। पुखराज का वजन कम से कम 3 रत्ती का होना चाहिए। विधिपूर्वक उपासना एवं पूजन के पश्चात निम्र 19000 मंत्र का जाप करके किसी शुक्ल पक्ष के बृहस्पतिवार को सूर्यास्त से एक घंटे पूर्व श्रद्धापूर्वक पुखराज की अंगूठी को तर्जनी उंगली में धारण करना चाहिए : ॐ बृं बृहस्पतये नम:। 


पुखराज के बदले में पीला मोती, पीला जिरकन या सुनेला धारण करना चाहिए।


धनार्जन के लिए: 11 बृहस्पतिवार गरीब महिलाओं को केले बाटें। 


दांपत्य में सुख वृद्धि: 10 बृहस्पतिवार काले शिवलिंग पर केसर के दूध से अभिषेक करें।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You