गुजरात में टिकटों को लेकर दो भाजपा सांसदों ने पार्टी को ही दी चेतावनी

  • गुजरात में टिकटों को लेकर दो भाजपा सांसदों ने पार्टी को ही दी चेतावनी
You Are HereLatest News
Monday, November 20, 2017-12:24 AM

गांधीनगर: गुजरात में चुनावी गहमागहमी के बीच सत्तारूढ भाजपा की मुश्किलें बढाते हुए पार्टी के लोकसभा सांसद लीलाधर वाघेला ने रविवार को चेतावनी दी कि अगर उनके बेटे को टिकट नहीं दिया गया तो वह पार्टी छोड़ देंगे जबकि एक अन्य सांसद ने अपनी पत्नी को टिकट नहीं दिए जाने पर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लडऩे का अल्टीमेटम भी दिया है।

पंचमहाल लोकसभा सीट के भाजपा सांसद प्रभातसिंह चौहाण ने मध्य गुजरात की कालोल विधानसभा सीट पर अपनी पत्नी को टिकट नहीं दिए जाने के बाद रविवार को चेतावनी दी कि वह इस सीट पर निर्दलीय  उम्मीदवार के तौर पर नामांकन करने के बारे में विचार कर रहे हैं।

ज्ञातव्य है कि अब तक कुल 182 में से 106 सीटों के लिए  उम्मीदवार घोषित कर चुकी भाजपा के वरिष्ठ विधायक, संसदीय सचिव तथा दलित नेता जेठा सोलंकी ने उन्हें टिकट नहीं मिलने की आशंका पर ही शनिवार को पार्टी और विधायक पद से त्यागपत्र दे दिया था।

82 वर्षीय वाघेला पिछले लोकसभा चुनाव में विधायक रहते हुए गुजरात की पाटन सीट से भाजपा प्रत्याशी थे। जीतने के बाद उन्होंने डीसा विधानसभा सीट छोड़ दी थी पर इस पर सितंबर 2014 में हुए उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी लेबाजी ठाकोर की कांग्रेस के गोवा रबारी के हाथों 10 हजार से अधिक मतों से हार हो गई थी।

वाघेला ने कहा कि उन्होंने डीसा से अपने बेटे दिलीप वाघेला के लिए टिकट मांगा है। उन्होंने वर्षों तक पार्टी की सेवा की है और बेटे को भी इसकी सेवा में लगाना चाहते हैं। अगर पार्टी उनकी सेवा की कद्र नहीं करती और उनके बेटे को टिकट नहीं देती तो वह पार्टी से त्यागपत्र दे देंगे। उधर सूत्रों ने बताया कि वाघेला ने अपने बेटे के लिए कांकरेज, दियोदर या डीसा में से कोई एक सीट मांगी थी। दो सीटों पर पहले ही दूसरे लोगों को टिकट दिया जा चुका है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You