अक्तूबर में मचाएं धमाल जानिए, किस दिन आएगा कौन सा व्रत-त्यौहार 

  • अक्तूबर में मचाएं धमाल जानिए, किस दिन आएगा कौन सा व्रत-त्यौहार 
You Are HereLent and Festival
Saturday, October 01, 2016-1:01 PM

1 अक्तूबर : शनिवार : शारदीय (शरद, आश्विन, अस्सु) नवरात्रे प्रारंभ, घट (कलश) स्थापना, श्री दुर्गा पूजा एवं श्री राम लीला कथा-मेला प्रारंभ, नानी-नानी का श्राद्ध, आश्विन शुक्ल पक्ष शुरू, महाराजा अग्रसेन जी की जयंती, मेला माता श्री ज्वालामुखी जी एवं श्री बगलामुखी जी प्रारंभ (हिमाचल), मेला श्री आशापूर्णी जी (पठानकोट)।


2 अक्तूबर: रविवार : चंद्र दर्शन, गांधी जी एवं श्री लाल बहादुर शास्त्री जी का जन्मदिवस। 


3 अक्तूबर : सोमवार : मुसलमानी महीना मुहर्रम एवं हिजरी सन् 1438 शुरू।


5 अक्तूबर : बुधवार : श्री उपांङ्ग ललिता पंचमी व्रत, सिद्धि विनायक श्री गणेश चतुर्थी व्रत। 


7 अक्तूबर : शुक्रवार : गुरु (तारा) पूर्व में उदय होगा, आय बील ओली प्रारंभ (जैन)।



8 अक्तूबर : शनिवार : श्री सरस्वती देवी जी का आह्वान। 


9 अक्तूबर : रविवार : श्री दुर्गा अष्टमी व्रत, महा अष्टमी, श्री सरस्वती देवी जी का पूजन, मेला माता श्री ज्वालामुखी जी, मेला माता श्री तारा देवी जी, श्री भद्रकाली जी की जयंती।


10 अक्तूबर : सोमवार : श्री दुर्गा नवमी, महानवमी, श्री सरस्वती देवी जी के लिए बलिदान एवं विसर्जन, आश्विन (अस्सु,शरद), शारदीय नवरात्रे समाप्त। 



11 अक्तूबर: मंगलवार : विजयदशमी महापर्व, मेला दशहरा, आयुद्ध पूजा, अपराजिता पूजा, शस्त्र पूजा, रावणदाह (सायं समय), नवरात्रे व्रत का पारणा, स्वामी श्री माध्वाचार्य जी की जयंती, मेला दशहरा (कुल्लू, हिमाचल) प्रारंभ।

 

12 अक्तूबर: बुधवार को पापांकुशा एकादशी व्रत, श्री राम-भरत मिलाप, प्रात: 7 बजकर 51 मिनट पर पंचक प्रारंभ, मुहर्रम (ताजिया) मुस्लिम पर्व।


13 अक्तूबर: वीरवार को प्रदोष व्रत, श्री पदमनाभ द्वादशी।


15 अक्तूबर: शनिवार को श्री सत्य नारायण व्रत कोजागरी (व्रत) पूर्णिमा, शरद (शरत) पूर्णिमा, मेला श्री शाकु भरी देवी जी (उ.प्र.), लक्ष्मी-कुबेर पूजन, आज रात्रि में मेवायुक्त खीर को छिटकती चांदनी में रात भर सुरक्षित रखें और अगले दिन भगवान विष्णु जी को भोग लगाकर परिवार सहित सेवन करने से अनेक प्रकार की मानसिक-शारीरिक कष्ट की शांति होती है।


16 अक्तूबर: रविवार को स्नान दान आदि की आश्विन पूर्णिमा, भगवान वाल्मीकि जी की जयंती, कार्तिक स्नान एवं व्रत कथा आदि प्रारंभ, प्रात: 11 बज कर 14 मिनट  पर पंचक समाप्त, कार्तिक कृष्ण पक्ष प्रारंभ, ओली समाप्त (जैन)।


17 अक्तूबर : सोमवार को प्रात: 6 बज कर 31 मिनट पर सूर्य तुला राशि में प्रवेश करेगा, कार्तिक महीना प्रारंभ, तुला एवं कार्तिक संक्रांति का पुण्यकाल दोपहर 12 बज कर 55 मिनट तक, आकाश दीपदान, श्री गुरु रामदास जी महाराज का जन्मोत्सव (प्राचीन पर परा), नामधारी मेला श्री भैणी साहिब जी (कटानीकलां, लुधियाना)।


 18 अक्तूबर: मंगलवार को दशमहा विद्या श्री कमला जयंती, पर्वत मेला मंडी (हिमाचल)।


19 अक्तूबर : बुधवार को संकटनाशक श्री गणेश चतुर्थी व्रत, करवाचौथ व्रत, करक चतुर्थी, दशरथ चतुर्थी, चंद्रमा रात 8 बज कर 45 मिनट पर उदय होगा। 


21 अक्तूबर: शुक्रवार को स्कंद षष्ठी व्रत।


22 अक्तूबर : शनिवार को अहोई अष्टमी, अहोई माता का व्रत, मासिक काल अष्टमी व्रत, स्वामी श्री राम तीर्थ जी की जयंती, श्री राधा कुंड स्नान (मथुरा, उ.प्र.)।


23 अक्तूबर : रविवार को सूर्य ‘सायण’ वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा, हेमंत ऋतु प्रारंभ, राष्ट्रीय महीना कार्तिक शुरू।
  

24 अक्तूबर: सोमवार को श्री गुरु हरि राय साहिब जी का ज्योति जोत समाए दिवस (प्राचीन पर परा)।


26 अक्तूबर: बुधवार को रमा एकादशी व्रत, गोवत्स द्वादशी।


28 अक्तूबर: शुक्रवार को प्रदोष व्रत, धन त्रयोदशी, धन तेरस, श्री हनुमान जी की जयंती, मासिक शिवरात्रि व्रत, श्री संगमेश्वर महादेव अरुणाय-पिहोवा के शिव त्रयोदशी पर्व की तिथि, श्री धनवंतरी जी की जयंती, यम प्रीत्यर्थ दीपदान (यम के लिए घर के बाहर सायं समय दीपदान)। 


29 अक्तूबर: शनिवार को नरक चतुर्दशी व्रत, नरक चौदस, रूप (नरकहरा) चतुर्दशी, मेला कालीबाड़ी (शिमला, हिमाचल)।


30 अक्तूबर: रविवार को दीपावली महापर्व, दीवाली, श्री गणेश-लक्ष्मी जी-सरस्वती-कुबेर-इंद्र पूजा, सायं समय देवालयों में दीप जलाकर घर में दिए जलाने चाहिएं, स्नानदान आदि की कार्तिक अमावस, काली जी की पूजा, श्री कमला जयंती, ऋषि बोध-उत्सव, महर्षि स्वामी दयानंद सरस्वती एवं श्री महावीर जी का निर्वाण दिवस (जैन), स्वामी श्री रामतीर्थ जी का जन्म एवं निर्वाण दिवस, दीवाली मेला (अमृतसर), श्री महालक्ष्मी पूजन।


31 अक्तूबर : सोमवार को अन्नकूट, गोवर्धन पूजा, बलिपूजा, गोक्रीड़ा (सायं समय) कार्तिक शुक्ल पक्ष प्रारंभ, विश्वकर्मा दिवस  (पंजाब), भक्त नाम देव जी का जन्म उत्सव, लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की जयंती। 
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You