1 सितम्बर को गर्भवती महिलाएं शिशु की सुरक्षा के लिए बरतें कुछ सावधानियां

  • 1 सितम्बर को गर्भवती महिलाएं शिशु की सुरक्षा के लिए बरतें कुछ सावधानियां
You Are HereMantra Bhajan Arti
Tuesday, August 30, 2016-11:04 AM
1 सितंबर को लग रहा है सूर्य ग्रहण, धार्मिक दृष्टि से इसका अत्यधिक महत्त्व होता है। सनातन धर्म में इसे अशुभ माना जाता है। सूर्य ग्रहण के दिन बन रहे योग का विशेष प्रभाव दुनिया भर में पड़ेगा। जीवन की गति और चाल केवल गृह ही चलते हैं। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय विशेष सावधानी रखने की अवश्यकता होती है। ग्रहण का सीधा प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ता है। ग्रहण के समय गर्भवती महिलाएं बरतें कुछ सावधानियां-
 
* गर्भवती महिलाओं को भगवान का ध्यान करना चाहिए। महामंत्र का जाप शुभ प्रभाव देता है।
 
* कोई भी धार्मिक ग्रंथ पढ़ें। 
 
* कुछ भी खाना पीना नहीं चाहिए।
 
* ग्रहण को देखें नहीं।
 
* सोना नहीं चाहिए।
 
* खुजली नहीं करनी चाहिए।
 
* क्रोध और तनाव को स्वयं पर हावी न होने दें। प्रसन्न रहें।
 
* किसी के ऊपर हाथ न उठाएं विशेषकर किसी बालक पर।
 
* झुकने वाले काम न करें।
 
* योगासन अथवा व्यायाम नहीं करना चाहिए।
 
* चाकू से किसी भी वस्तु को काटना नहीं चाहिए।
 
* ताला अथवा कड़ी नहीं लगानी चाहिए।
 
* नाड़ा नहीं बांधना चाहिए।
 
उपरोक्त लिखी हिदायतें कपोल कल्‍पनाएं नहीं है बल्कि जीवन का अटूट सच है जिसे गर्भवती स्त्रियों को स्वीकार करना चाहिए। ऐसा करने से स्वाभाविक रूप से स्वस्थ, सुन्दर और विचारवान संतान होगी। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You