करवा चौथ पर बन रहा है सर्वार्थ सिद्धि योग, राशि अनुसार करें ये उपाय

  • करवा चौथ पर बन रहा है सर्वार्थ सिद्धि योग, राशि अनुसार करें ये उपाय
You Are HereMantra Bhajan Arti
Monday, October 17, 2016-10:49 AM

इस बार करवा चौथ का पर्व 19 अक्टूबर, बुधवार को आ रहा है। पुराणों के अनुसार, चतुर्थी तिथि के स्वामी भगवान श्रीगणेश हैं। वहीं बुधवार भी श्रीगणेश का ही दिन माना गया है। इसके साथ ही इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा है। इस योग में गणपति जी को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार विशेष उपाय करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। पति-पत्नी दोनों करवा चौथ के दिन ये उपाय करके श्रीगणेश की कृपा प्राप्त कर सकते हैं। आइए जाने करवा चौथ के दिन राशि अनुसार उपाय-                  

 

मेष राशि
मेष राशि वाले जातक करवा चौथ के दिन सिंदूरी रंग के गणपति जी की पूजा करें। श्रीगणेश जी को 11 दूर्वा हल्दी के जल में डालकर चढ़ाएं। ऊं गं गणपतये नम: मंत्र को दूर्वा से भोजपत्र पर 108 बार लिखे। इस प्रकार करने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं अौर धन-समृद्धि की प्राप्ति होती है। 

 

वृष राशि
वृष राशि वाले इस दिन दूधिया रंग के श्रीगणेशजी की पूजा करें। गणपति जी को सफेद पुष्प पर इत्र लगाकर नवदुर्गा के साथ सफेद लड्डुअों का भोग लगाएं। पूजा करते समय  ऊँ गं ऊँ गं मंत्र का जाप करें। इस प्रकार पूजन करने से कार्यों में सफलता अौर सिद्धि की प्राप्ति होती है। 

 

मिथुन राशि
मिथुन राशि के जातकों के लिए हरी गणेश प्रतिमा का पूजन करना शुभ होता है। दूर्वा की माला बनाकर ऊं श्री गं गणाधिपतये नम: मंत्र 108 बार बोलकर गणेश प्रतिमा पर अर्पित करें। इसके साथ ही श्रीगणेश को गुड़ का भोग लगाएं। ऐसा करने से श्रीगणेश की कृपा प्राप्त होती है। 

 

कर्क राशि
क्रक राशि वाले जातकों के लिए सफेद रंग के गणेश जी की आराधना करना शुभ होता है। सफेद आंकड़े के फूलों की माला बनाकर साथ में दूर्वा की जड़ बाधकर अर्पित करने से गणेश जी प्रसन्न होते हैं। ऊं श्री श्वेतार्क देवाय नम: मंत्र का जाप कम से कम 108 बार करें। मोदक पर थोड़ा सा माक्खन अर्पित करें। इस प्रकार गणपति जी का पूजन करने से संपूर्ण मनोकामनाएं पूर्ण होती है। 

 

सिंह राशि
करवा चौथ के दिन सिंह राशि वालों के लिए मेहरून रंग की श्रीगणेश प्रतिमा की पूजा करना श्रेष्ठ रहता है। श्रीगणेश का विधि-विधान से पूजन कर 108 दूर्वा पर कुमकुम लगाकर अर्पित करें। गुड़ की 11 गोली बनाकर श्रीगणेश जी को नित्य अर्पित करने से चहुंमुखी विकास होगा। 

 

कन्या राशि
कन्या राशी वाले जातक इस दिन गहरे हरे रंग के गणपति जी की पूजा करें। 108 संख्या में हरे मूग लेकर श्रीगणेश की प्रतिमा पर अर्पित करें। गणपति मंदिर में हरे मूंग व गुड़ का भी दान करें। साथ ही श्री वक्रतुंडाय नम: मंत्र का 108 बार जाप करें। गणपति की इस प्रकार से आराधना से प्रत्येक कार्यों में सफलता की प्राप्ति होती है।

 

तुला राशि
तुला राशि वालों के लिए इस दिन सफेद मिश्रित रंग के गणपति जी की आराधना करना शुभ होता है। श्रीगणेश को सवाया लड्डू का भोग लगाएं। दूर्वा व फूल भी सवा सौ ग्राम या सवा किलो अर्पित करें। ऐसा करने से सभी संकट दूर होते हैं अौर इच्छित मनोकामना पूर्ण होती है। श्रीगणेश स्त्रोत का पाठ करना भी शुभ होता है।
 
 

वृश्चिक राशि
करवा चौथ पर वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए लाल मिश्रित श्रीगणेशजी की पूजा करना शुभ होता है। गणपति जी पर लाल रंग से रंगे चावल अर्पित करें। चावलों की संख्या 108 से कम या अधिक नहीं होनी चाहिए। श्री विघ्नहरण संकट हरणायनम: का जाप करें। इस प्रकार पूजन करने से संपूर्ण इच्छाअों की पूर्ति होती है। 

 

धनु राशि
धनु राशि वालों को इस दिन पीले रंग की श्रीगणेश प्रतिमा की पूजा करनी चाहिए। गणपति जी पर हल्दी की पांच गांठे श्री गणाधिपतये नम: मंत्र का जाप करते हुए अर्पित करें। 108 दूर्वा पर गीली हल्दी लगाकर श्री गजवकत्रम नमो नम: का जाप करके अर्पित करें। इस प्रकार पूजन करने से गणपति जी सभी इच्छाएं पूरी करते हैं।

 

मकर राशि
करवा चौथ वाले दिन मकर राशि वाले जातकों को नीले रंग के श्रीगणेशजी की आराधना करनी चाहिए। श्रीगणेश को काले तिल अर्पित करें। दूर्वा व लाल रंग के पुष्प पर इत्र लगाकर श्री गणेशाय नम: का जाप कर गणपति जी पर अर्पित करें। गणपति अर्थवशीर्ष का पाठ करें। ऐसा करने से सारे विध्नों का नाश होता है।

 

कुंभ राशि
कुंभ राशि वालों के इस दिन आसमानी रंग की गणेश प्रतिमा का पूजन करें। श्रीगणेश को सिंदूर का तिलक लगाए अौर उनके मस्तक के मध्य में हल्दी का तिलक लगाएं। इस दिन हाथी को मोदक या गुड़ रोटी खिलाएं व 108 दूर्वा अर्पित कर ऊँ गं गणपतयै नम: मंत्र का जाप करें।

 

मीन राशि
मीन राशि वालों के लिए इस दिन हल्दी रंग के श्रीगणेशजी की आराधना करना शुभ होता है। हल्दी की जड़ पर आठ बार ऊं गं गं गं गं गं श्री गजाय नम: लिखकर श्री गणेश के मस्तक पर अर्पण करें। गणपति जी को पीले धागे पर पीले फूल व दूर्वा की माला बनाकर अर्पित करें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You