कामना पूर्ति के लिए बुधवार को करें विशेष मंत्र का उच्चारण 

  • कामना पूर्ति के लिए बुधवार को करें विशेष मंत्र का उच्चारण 
You Are HereMantra Bhajan Arti
Tuesday, September 27, 2016-9:51 AM

हिन्दू संस्कृति और पूजा में भगवान श्रीगणेश जी को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है। बुधवार को विघ्नहर्ता गणेशजी की भक्ति का शुभ दिन माना जाता है। प्रत्येक शुभ कार्य से पूर्व भगवान गणेश की पूजा की जाती है। बुधवार के दिन श्रीगणेश की पूजा अौर विशेष मंत्रों से पूजा करने पर शुभ फल की प्राप्ति होती है। श्रीगणेश की पूजा अौर मंत्रों के उच्चारण से ग्रहदोष, परेशानियों का नाश होता है अौर व्यक्ति की प्रत्येक इच्छाएं पूर्ण होती है। आइए जाने श्री गणेश की पूजा किन विशेष मंत्रों से करने पर होगी शुभ फल की प्राप्ति-

 

सुबह सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत होकर पीले रंग के वस्त्र पहनकर घर या देवालय में बैठकर श्री गणेश की पूजा करनी चाहिए। श्री गणेश की पूजा सिंदूर, दूर्वा, गंध, अक्षत, अबीर, गुलाल, सुंगधित फूल, जनेऊ, सुपारी, पान, मौसमी फल चढ़ाकर करें। उसके पश्चात  भोग में लड्डू अर्पित करें। पूजा के बाद आसन में बैठकर श्रीगणेश मंत्र का जाप कर पूजन संपन्न करें।  

 

श्रीगणेश गायत्री मंत्र
 
एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।
महाकर्णाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।
गजाननाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You