विष्णु पुराण: पुरूष विवाह से पहले अवश्य करें 4 बातों की पूछ-ताछ अन्यथा...

  • विष्णु पुराण: पुरूष विवाह से पहले अवश्य करें 4 बातों की पूछ-ताछ अन्यथा...
You Are HereMantra Bhajan Arti
Friday, September 02, 2016-1:14 PM
हिंदू विवाह पति और पत्नी के बीच जन्म-जन्मांतरों का संबंध होता है। अग्नि के सात फेरे ले कर दो तन, मन तथा आत्मा एक पवित्र बंधन में बंध जाते हैं। हिंदू विवाह में पति और पत्नी के बीच शारीरिक संबंध से अधिक आत्मिक संबंध होता है और इस संबंध को अत्यंत पवित्र माना गया है। विवाह संस्कार हिन्दू धर्म संस्कारों में 'त्रयोदश संस्कार' हैं। विष्णु पुराण में महिलाओं के संबंध में बहुत कुछ बताया गया है। इस पुराण में बताया गया है जब विवाह के लिए लड़की की तलाश आरंभ करें तो 4 बातों की पूछ-ताछ अवश्य करें।  
रिश्तेदारी में विवाह
माता अथवा पिता की रिश्तेदारी में विवाह नहीं करना चाहिए। शास्त्रों की मान्यता के अनुसार दंपत्ति का एक ही गोत्र में विवाह करना निषेध है।  माता पक्ष से पांचवीं पीढ़ी तक और पिता पक्ष से सातवीं पीढ़ी तक शादी अथवा संबंध स्थापित नहीं करने चाहिए। इससे जेनेटिक बीमारियां होने की प्रबल संभावना रहती है। 
 
भ्रष्ट पुरूषों से मित्रता करने वाली
महिलाओं को भ्रष्ट पुरूषों से मित्रता अथवा किसी भी तरह का संबंध नहीं रखना चाहिए अन्यथा  भविष्य में उन्हें असुरक्षा, अपयश और अपमान का सामना करना पड़ता है। महिलाओं का चरित्रबल संसार में सभी बलों में श्रेष्ठ और सब संपत्तियों में मूल्यवान संपत्ति है। चरित्रवान स्त्री की आत्मा उज्जवल एवं बलिष्ठ होती है। महिलाओं का चरित्र ही उनके लिए अमर उपलब्धि है। तभी तो वह नारी से देवी बन जाती हैं। सुखद भविष्य की चाह रखने वाले पुरूष कभी भी चरित्रहीन महिला के साथ विवाह बंधन में न बंधे। 
कड़वा बोलने वाली
वाणी में देवी सरस्वती का वास होता है। समझदार महिलाएं जो भी बोलती हैं सोच-समझकर तोल-मोल कर बोलती हैं। जो महिलाएं कटु और तीखे वचन बोलती हों उनके साथ प्रणय सूत्र में नहीं बंधना चाहिए। कड़वा बोलने वाली महिला कभी भी सुखद गृहस्थी का निर्माण नहीं कर सकती।  
 
अधिक सोने वाली
अधिक सोने से आलस जन्म लेता है। आलसी महिला घर की साफ-सफाई की तरफ ध्यान न देकर आराम करने को महत्व देती है। देवी लक्ष्मी साफ-स्वच्छ घर में वास करती हैं। सुबह देर तक सोने वाली या द‌िन के समय सोने वाली महिलाएं अपने वैवाहिक जीवन में दरार और कलह का कारण स्वयं बनती हैं। ऐसी महिलाएं चाहे मायके में हो या ससुराल में धन की बर्बादी ही करती हैं। कभी ऐसे घर में लक्ष्मी टिक कर नहीं रहती जहां महिलाएं दिन में सोती हैं। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You