लंबी दूरी की ट्रेनें अब नहीं होंगी लेट,रेल मंत्रालय ने बनाया नया प्लान

  • लंबी दूरी की ट्रेनें अब नहीं होंगी लेट,रेल मंत्रालय ने बनाया नया प्लान
You Are HereNcr
Friday, October 20, 2017-6:31 PM

नई दिल्ली: भारतीय रेल जल्दी ही लंबी दूरी की 500 से ज्यादा ट्रेनों के यात्रा समय में दो घंटे तक की कटौती करेगा। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज यह बताया। उन्होंने कहा कि नई समय सारणी नवंबर में अद्यतन की जाएगी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल से निर्देशों के बाद रेलवे ने ‘नवीन समयसारणी’ पर काम किया है जिसके तहत लोकप्रिय ट्रेनों का यात्रा समय 15 मिनट से दो घंटे तक घट जाएगा। नई समय सारणी में प्रत्येक रेल मंडल को रख-रखाव कार्यों के लिए दो से चार घंटे का समय दिया जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी योजना मौजूदा रॉलिंग स्टॉक का अधिकतम इस्तेमाल करने की है। यह दो तरीके से हो सकता है- अगर हमारे पास एक ट्रेन हो जो वापसी के लिए कहीं इंतजार कर रही हो, हम इसका इस्तेमाल रुके होने की अवधि में कर सकते हैं। ’’

अधिकारी ने कहा, ‘‘नई समयसारणी में करीब 50 ऐसी ट्रेनें इस तरह चलेगी। कुल 51 ट्रेनों का समय एक से तीन घंटे तक घट जाएगा। यह 500 से ज्यादा ट्रेनों तक होगा।’’ रेलवे ने एक आंतरिक आडिट शुरू किया है जिसमें 50 मेल और एक्सप्रेस ट्रेन सुपरफास्ट सेवा में बदली जाएंगी।

उन्होंने कहा कि यह मौजूदा ट्रेनों की औसत रफ्तार बढ़ाने के रेल तंत्र को दुरुस्त करने का एक हिस्सा है। भोपाल-जोधपुर एक्सप्रेस जैसी ट्रेन 95 मिनट पहले पहुंच जाएगी जबकि गुवाहाटी-इंदौर स्पेशल अपनी 2330 किलोमीटर की यात्रा 115 मिनट पहले पूरा कर लेगी। कुल 1929 किलोमीटर का सफर तय करने वाली गाजीपुर-बांद्रा र्टिमनस एक्सप्रेस की यात्रा 95 मिनट पहले पूरी हो जाएगी।

रेलवे ने स्टेशनों पर ठहराव का वक्त भी घटाया है। इसी तरह कम आवाजाही वाले स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं ठहरेगी। लाइन और आधारभूत संरचना की बेहतरी, स्वचालित संकेतक और 1&0 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से दूरी तय करने वाले नए ङ्क्षलके-हॉफमेन बुश कोचों से ट्रेन तेजी से गंतव्य तक पहुंच सकेगी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You