मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले पर शिवसेना ने लिया यू-टर्न

  • मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले पर शिवसेना ने लिया यू-टर्न
You Are HereNational
Wednesday, November 23, 2016-4:01 PM

 नई दिल्ली: नोटबंदी के मुद्दे पर शुरू में मोदी सरकार की आलोचना कर रही राजग सरकार में सहयोगी शिवसेना ने बड़े नोटों को अमान्य करने के मोदी सरकार के कदम का आज समर्थन करते हुए कहा कि यह फैसला जरूरी था और सरकार ने कुछ एेसे कदम उठाये हैं जिनसे जनता को राहत मिलने लगी है।  
 

नोटों को बंद करने का कदम जरुरुी था
नोटबंदी के मुद्दे पर शिवसेना के आनंदराव अडसुल ने लोकसभा में कहा, ‘‘हमने 500 और 1000 रुपए के नोटों को बंद करने के फैसले का स्वागत किया है। यह जरुरी कदम था।’’  उन्होंने कहा कि पिछले ढाई साल से कालेधन को रोकने की बात हो रही थी और इसे चलन से बाहर करना जरुरी था। अडसुल ने कहा कि उनकी पार्टी इस फैसले से जनता को हो रही परेशानियों से चिंतित थी लेकिन कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम लोगों को राहत देने का आश्वासन दिया और आज राहत भरे कदम सामने आए हैं। 

परेशान हो रही जनता को राहत प्रदान की जाएगी
शिवसेना सांसद ने कहा, ‘‘ कल शिवसेना सांसदों से बातचीत में प्रधानमंत्री ने हमें आश्वासन दिया था कि परेशान हो रही जनता को राहत प्रदान की जाएगी। आज कुछ राहत भरे निर्णय आए हैं।’’  उन्होंने इस संबंध में नाबार्ड द्वारा जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों के लिए 21000 करोड़ रुपए की विशेष सहायता दिए जाने की आज हुई घोषणा का हवाला दिया। 

इससे पहले शिवसेना ने की थी मोदी सरकार की आलोचना
 गौरतलब है कि कल शिवसेना कई सांसदों ने नोटबंदी के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की थी।  इससे पहले गत आठ नवंबर को नोटबंदी के मोदी सरकार के एेलान के बाद शिवसेना ने सरकार की आलोचना की थी। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You