अब बिना पैसों के हो सकती है शादी, जानिए कैसे

  • अब बिना पैसों के हो सकती है शादी, जानिए कैसे
You Are HereNational
Monday, November 14, 2016-5:13 PM

बैतूल: पांच सौ और एक हजार रुपए के नोट बंद होने से सबसे अधिक परेशानी उन लोगों को है जिनके यहां शादियां हैं। कई जगह शादियों को टालने की नौबत आ रही है। इन समस्याओं को दूर करने के लिए मध्यप्रदेश के बैतूल जिले का बालाजीपुरम संस्थान आगे आया है। बालाजीपुरम में बिना नगदी के विवाह संपन्न कराने की व्यवस्था की गई है। रुक्मणि बालाजी मंदिर बालाजीपुरम के संस्थापक अप्रवासीय भारतीय सैम वर्मा ने शादी वाले घरों में होने वाली दिक्कतों को देखते हुए उनसे बालाजीपुरम में विवाह आदि कार्यक्रम संपन्न कराने को कहा है। उन्होंने कहा कि यहां बिना नगदी के ही सारी व्यवस्थाएं संपन्न कराई जाएंगी। 
 

साथ ही नेग आदि के लिए आवश्यक नगदी की व्यवस्था में भी सहयोग किया जाएगा। बालाजीपुरम से जुड़े सैकड़ों भक्त अपने हिस्से की नगदी भी शादी वाले जोड़ों को कन्यादान के रूप में देने को तैयार हैं। इस तरह बिना बड़े नोटों के यहां शादी समारोह पूरी भव्यता से आयोजित किया जा सकेगा। वर्मा ने कहा कि कोई भी व्यक्ति बालाजीपुरम कार्यालय में संपर्क कर इस अभियान का फायदा उठा सकता है। वे व्यक्तिगत रूप से भी जोड़ों को पुरस्कृत करेंगे।

वर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े नोट बंद करने का स्वागत करते हुए कहा कि इससे देश में भ्रष्ट लोगों के पास छिपा काला धन नष्ट होगा, वहीं आंतकवादियों-नक्सलियों की कमर टूटेगी। नि:संदेह इस दूरदर्शी फैसले से वर्तमान में ईमानदार आम जनता को थोड़ी दिक्कत होगी, लेकिन इससे जो भ्रष्टाचार कम होगा वह लोगों को दोगुना फायदा पहुंचाएगा। इसलिए हम सभी को मिलकर इस समय दिक्कतों का मुकाबला करना है और ऐसे अच्छे फैसलों के लिए केंद्र सरकार के साथ खड़े होना है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You