हिटलर से भी ज्यादा तानाशाह हैं PM मोदी: ममता

  • हिटलर से भी ज्यादा तानाशाह हैं PM मोदी: ममता
You Are HereTop News
Thursday, November 24, 2016-12:28 AM

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने नोटबंदी के खिलाफ संघर्ष को ‘आजादी की दूसरी लड़ाई’ करार देते हुए आज मोदी सरकार को इस मुद्दे पर चुनाव कराने की चुनौती दी। बनर्जी ने नोटबंदी के खिलाफ संसद से सड़क तक की लड़ाई के तहत तृमूकां की अगुवाई में यहां जंतर-मंतर  पर आयोजित एक दिन के धरने में आये लोगों को संबोधित कर रहीं थीं। धरने में तृमूकां के सांसदों के अलावा जनता दल यूनाइटेड के नेता शरद यादव, लोकसभा में समाजवादी पार्टी के उप नेता धर्मेंद्र यादव और सांसद जया बच्चन, राष्ट्रवादी कांगेस पार्टी के सांसद माजिद मेनन, आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा और कुछ अन्य नेता भी शामिल हुए। 
 

मोदी स्विस बैंक से एक भी पैसा नहीं ला सके 
बनर्जी ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोलते हुए उनके इस कदम को तानाशाहीपूर्ण करार दिया जिससे मेहनतकश मजदूर, किसान, छोटे व्यापारी, महिलाएं और नौजवान परेशान हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि ‘अच्छे दिन लाने’ का वादा करके वोट लेने वाले मोदी स्विस बैंक से तो एक भी पैसा नहीं ला सके उल्टे जनता का नोट छीन लिया । मोदी को हिटलर से भी ज्यादा तानाशाह और अहंकारी करार देते हुए तृमूकां प्रमुख ने कहा कि वह विपक्षी दलों ,महिलाओं और मीडिया सबको धमकी दे रहे हैं। 
 

नोटबंदी को लेकर सरकार का छिपा एजेंडा जल्द ही सामने आएगा
उन्होंने कहा कि नोटबंदी को लेकर सरकार का छिपा एजेंडा जल्द ही सामने आ जाएगा। इस कदम से सरकार की विश्वसनीयता खत्म हो गयी है। ऐसे में सभी दलों और समाज के हर वर्ग को नोटबंदी के खिलाफ आजादी की दूसरी लड़ाई के लिए कमर कस लेनी चाहिए। बनर्जी ने कहा कि नोटबंदी पर विज्ञापन देकर जनता की राय सामने नहीं आएगी । सरकार में अगर हिम्मत है तो चुनाव कराकर देखे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश और पंजाब के आगामी विधानसभा चुनावों में मोदी को जनता का जवाब मिल जाएगा।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You