फैसला वापस लेना PM मोदी के खून में नहीं: नायडू

You Are HereTop News
Wednesday, November 23, 2016-4:37 PM

नई दिल्ली: एक तरफ नोटबंदी को लेकर विपक्ष सरकार पर हल्ला बोला है तो दूसरी ओर सरकार के मंत्री और नेता पीएम मोदी के फैसले का समर्थन लेने में पीछे नहीं हट रहे हैं।

नोटबंदी के फैसले पर पूरा देश सरकार के साथ 
केंद्र सरकार की तरफ से वैंकेया नायडू ने एक बड़ा बयान दिया है। नायडू ने कहा है कि फैसले वापस लेना मोदी के खून नहीं है और नोटबंदी पर लिया गया फैसला किसी भी कीमत में वापस नहीं लिया जाएगा। संसद में हंगामे को लेकर विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए वेंकैया ने कहा कि नोटबंदी के फैसले पर पूरा देश सरकार के साथ है। वेंकैया ने नोटबंदी के खिलाफ विपक्ष की एकजुटता पर चुटकी लेते हुए कहा कि 'लोगों की शिकायत है कि मोदी जी न खाते हैं, न खाने देते हैं। मैगी खाने की बात नहीं कर रहा, बैगी की बात कर रहा हूं।

मोदी जी देश में मोजूद काले धन को निकलवाना चाहते हैं।
वेंकैया नायडू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कसीदे पढ़ते हुए कहा कि मोदी सरकार ने पहले पहले विदेशों से काला धन वापस लाने की कोशिश की, अब मोदी जी देश में मोजूद काले धन को निकलवाना चाहते हैं।

विपक्षी दल ने किया देशभर में आक्रोश दिवस मनाने का ऐलान 
बता दें कि नोटबंदी को लेकर विपक्ष ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। बुधवार को प्रधानमंत्री की मौजूदगी के बावजूद हंगामे के चलते संसद नहीं चल पाई। विपक्षी दलों ने 28 नवंबर को नोटबंदी के खिलाफ देशभर में आक्रोश दिवस मनाने का ऐलान किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You