मोदी के नोटबंदी सर्वेक्षण को ‘आप’ ने किया खारिज, आंकड़ों के साथ किए ट्वीट पढ़ें...

  • मोदी के नोटबंदी सर्वेक्षण को ‘आप’ ने किया खारिज, आंकड़ों के साथ किए ट्वीट पढ़ें...
You Are HereTop News
Thursday, November 24, 2016-2:22 AM

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उस सर्वेक्षण को खारिज किया है जिसमें 500 और एक हजार रुपए बंद करने के फैसले का पांच लाख लोगों में से 90 प्रतिशत से अधिक उत्तरदाताओं ने समर्थन किया है। आप नेता आशीष खेतान ने बुधवार रात एक ट््वीट में कहा कि केवल 15 प्रतिशत भारतीयों के पास स्मार्ट फोन हैं और पांच लाख इस आंकड़े का एक प्रतिशत भी नहीं है। यह बहुत ही लज्जाजनक है कि देश के प्रधानमंत्री इसे लोकप्रिय रुख के तौर पर पेश कर रहे है।


ट्वीट कर आप ने कहा- लज्जाजनक है...
उन्होने कहा कि नोटबंदी के निर्णय का स्मार्ट फोन का इस्तेमाल करने वालों पर कोई असर नहीं पड़ेगा क्योंकि इन सभी के पास डेबिट या क्रेडिट कार्ड जरूर होंगे लेकिन उन गरीब किसानों, श्रमिकों और मजदूरों का क्या होगा जो इस तरह की सुविधाओं से वंचित हैं। आप प्रवक्ता ने मोदी से सवाल किया कि आखिर वह एक अरब से ज्यादा लोगों के प्रतिनिधि निर्वाचित सांसदों से सवाल क्यों नहीं पूछते? 


24 घंटे में 5 लाख जवाब
गौरतलब है कि नोटबंदी पर प्रधानमंत्री द्वारा ऐप के माध्यम से राय मांगी गई थी। जन-जन की बात नाम के इस सर्वेक्षण के शुरू होने के 24 घंटे के भीतर दुनिया के 2000 स्थानों से पांच लाख से भी अधिक लोगों ने अपनी राय व्यक्त की। प्रति मिनट 400 से अधिक जवाब दिए गए। इनमें 93 प्रतिशत लोग भारत से हैं। सर्वेक्षण में 24 प्रतिशत जवाब हिन्दी भाषा में मिले हैं। 
 

लोगों ने जमकर किया मोदी का समर्थन
यह सर्वेक्षण मंगलवार सुबह 10 बजे शुरू हुआ था और अपराह्न साढ़े तीन बजे तक पांच लाख से अधिक लोगों इस पर अपनी राय व्यक्त की है। प्रधानमंत्री के ट््िवटर पर आज जारी सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार अब तक पांच लाख लोगों ने अपनी राय भेजी है जिसमें 93 प्रतिशत से अधिक ने 500 और 1000 रुपए के नोट प्रचलन से बाहर करने निर्णय का समर्थन किया है और केवल दो प्रतिशत ने इसे अनुचित बताया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You