एडवाइजर ने अधूरे भवन का दौरा कर दिखाए तेवर, कहा- 31 जनवरी तक पूरा करो काम

  • एडवाइजर ने अधूरे भवन का दौरा कर दिखाए तेवर, कहा- 31 जनवरी तक पूरा करो काम
You Are HereChandigarh
Saturday, November 19, 2016-12:10 PM

चंडीगढ़(राय) : चंडीगढ़ प्रशासक के सलाहकार परिमल राय ने शुक्रवार को अचानक नगर निगम भवन का दौरा किया। इस दौरान वह भवन की सफाई व्यवस्था से नाखुश दिखे। उन्होंने सबसे पहले हिदायत दी कि भवन को साफ-सुथरा रखा जाए। इतना ही नहीं राय ने निगम भवन की अतिरिक्त मंजिलों के निर्माण व रैनोवेशन को 31 जनवरी तक पूरा करने की समय सीमा भी निगम अधिकारियों को दी। सूत्रों के अनुसार सलाहकार परिमल राय के दौरे ने किसी को खबर नहीं थी। सलाहकार जब अपने कार्यालय से निगम की ओर निकले तो निगम अधिकारियों को सूचित किया गया। सूचना मिलते ही निगम भवन में अफरा-तफरी मच गई। राय निगम कार्यालय खुलने के कुछ समय बाद ही पहुंच गए, कई अधिकारियों को तो कॉल कर शीघ्र पहुंचने के आदेश भी दिए गए। सलाहकार के आने की सूचना मिलते ही निगम के कक्षों में बिखरा सामान, फाईल्स आदि भी सिमटने शुरू हो गए। 

 

सूत्रों के अनुसार सलाहकार के इस दौरे को इस कदर गुप्त रखा गया था कि न तो मेयर व न विपक्ष के किसी नेता को इसकी भनक लगी। दौरे के समय सिर्फ निगम के वरिष्ठ अधिकारी ही उनके साथ थे। इनमें निगमायुक्त के अतिरिक्त दोनों अतिरिक्त आयुक्त व मुख्य अभियंता आदि ही शामिल थे। निगम के कर्मचारियों का ने बताया की  कि उन्हें लगा कि शायद वह आयुक्त के कक्ष में बैठक करके चले जाएंगे पर सलाहकार ने न सिर्फ हर कमरे का निरीक्षण किया अपितु शौचालयों तक की हालत भी देखी। निगम भवन और शौचालय में फैली गंदगी को लेकर उन्होंने चिंता जताई। इसके बाद परिमल राय ने कर्मचारियों के कक्ष देखे व कर्मचारियों से उनकी समस्याएं भी जानीं। 

 

एक कर्मचारी का कहना था कि उन्होंने बताया कि स्टाफ व जगह की कमी के चलते उन्हें तंगी भी झेलनी पड़ती है व काम का बोझ भी बढ़ जाता है। सलाहकार ने निगम भवन की निर्माणाधीन चार मंजिलों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने पुराने सदन को पहले देखा व फिर नए सदन का निरीक्षण किया। निगम के एक अधिकारी ने बताया कि सलाहकार ने निगम द्वारा किए जा रहे निर्माण को सराहा भी साथ में कह दिया कि इसे अब जल्दी पूरा भी कर दो। 

 

एक घंटा रहे निगम भवन में सलाहकार :
निगम सूत्रों के अनुसार प्रशासक करीब एक घंटा निगम में रहे। भवन का दौरा करने के बाद आयुक्त के कक्ष में करीब आधे घंटे तक वह अधिकारियों से चर्चा करते रहे। बताया जाता है कि जब सलाहकार ने निगम भवन व शौचालयों की साफ-सफाई के संबंध में पूछा तो उन्हें बताया गया कि ऊपर की 4 मंजिलों के पूरा होते ही नीचे की मंजिलों की रैनोवेशन भी कर दी जाएगी, अभी कर्मचारियों की संख्या अधिक होने के कारण सफाई नहीं रह पाती। निगम भवन के गलियारों में पड़ी लोहे की अलमारियों को उठाने के लिए भी सलाहकार ने कहा व उस पर भी उन्हें जगह की कमी की दलील दी गई। सलाहकार के जाने के निगमायुक्त ने अपने कक्ष में अधिकारियों के साथ काफी समय तक बैठक की व प्रशासक के दिशा-निर्देशों के अनुसार कार्य करने को कहा। उन्होंने शनिवार को,अवकाश के दिन, संबंधित स्टाफ को भवन की सफाई करने को कहा है। अभी तक किसी भी सलाहकार ने निगम का इस तरह से अचानक दौरा नहीं किया है। 


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You