पत्थरबाजों की मदद से भागा अल-कायदा का कश्मीर चीफ जाकिर मूसा

  • पत्थरबाजों की मदद से भागा अल-कायदा का कश्मीर चीफ जाकिर मूसा
You Are HereNational
Saturday, August 12, 2017-2:26 PM

श्रीनगर : हिजबुल मुजाहिद्दीन का पूर्व कमांडर जाकिर मूसा सुरक्षा बलों को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया है। सुरक्षा बलों को खबर मिली थी वह शुक्रवार शाम को अपने त्राल के नूरपुरा के अपने पैतृक इलाके के एक घर में छुपा हुआ है। सुरक्षा बलों को खबर मिली थी कि मूसा अपने सहयोगी के साथ एक घर में मौजूद है। जब सुरक्षा बल वहां पहुंचे तो पत्थरबाजों ने उन्हें रोकने की पूरी कोशिश की। स्थानीय पत्थरबाज मूसा और उसके सहयोगी को वहां से भागने में मदद करने की कोशिश करने लगे। कुछ घंटों बाद पत्थरबाजी रुक गई।


खुफिया एजेंसियों का मानना है कि ऐसा इसलिए हुआ होगा कि शायद आतंकवादियों ने पत्थरबाजों को यह संदेश दे दिया होगा कि वे भागने में कामयाब हो गए हैं।
जिस घर में मूसा के होने का संदेह था वहां से कोई गोलीबारी नहीं हुई। सुरक्षाबलों ने हालांकि अपनी ओर से पुख्ता तैयारी कर रखी थी। अगर आतंकवादी घर से भागकर निकलने में कामयाब हो जाते तो उन्हें रोकने के लिए सुरक्षा बलों ने चार गांवों की घेराबंदी कर रखी थी। इसमें पीर मोहल्ला, शाह मोहल्ला, डागरपुरा और नूरापुरा शामिल थे।

 अधिकारिक तौर पर नहीं हुई है पुष्टि
पुलिस ने कहा कि नूरपुरा में घेराबंदी जारी रहनी चाहिए। हालांकि इस बीच रिपोट्र्स हैं कि मूसा सुरक्षाबलों को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया है लेकिन इसकी आधिकारिक सूचना अभी नहीं मिली है। शीर्ष खुफिया सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि जब सुरक्षा बलों ने उस इलाके की घेराबंदी की तब मूसा अपने सहयोगी के साथ उस घर में ही मौजूद था। मूसा ने हिजबुल मुजाहिद्दीन से अलग होने के बाद अल-कायदा के सहयोग के अंसार गजवा-उल-हिंद नाम का अपना खुद का आतंकी संगठन बनाया है।
सुरक्षा बलों ने सूर्यास्त के बाद अपना ऑपरेशन रद्द कर दिया।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You