चैम्पियंस लीग : मुम्बई इंडियंस की पहली और प्रभावशाली जीत

  • चैम्पियंस लीग : मुम्बई इंडियंस की पहली और प्रभावशाली जीत
You Are HereNational
Saturday, September 28, 2013-7:37 AM

जयपुर : मुंबई इंडियन्स ने चैम्पियन्स लीग टी20 ग्रुप ए मैच में हाईवेल्ड लायंस को सात विकेट से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीदें जीवंत रखी। गेंदबाजों के प्रभावी प्रदर्शन के बाद ड्वेन स्मिथ के तूफानी अर्धशतक के दम पर मुंबई इंडियन्स ने शुक्रवार को जयपुर में लायंस को सात विकेट से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा है। मुंबई की टीम ने लायंस को पांच विकेट पर 140 रन के स्कोर पर रोकने के बाद स्मिथ (नाबाद 63) की बदौलत नौ गेंद शेष रहते तीन विकेट पर 141 रन बनाकर जीत दर्ज की।  स्मिथ ने 47 गेंद की अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के जड़े,उन्होंने कीरोन पोलार्ड (20 गेंद में नाबाद 32, दो चौके, तीन छक्के) के साथ चौथे विकेट के लिए 5.5 ओवर में 51 रन की अटूट साझेदारी करके टीम को आसान जीत दिलाई।

मुंबई की ओर से प्रज्ञान ओझा ने 26 रन देकर दो विकेट चटकाए। हरभजन सिंह और रिषि धवन ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में क्रमश: 19 और 22 रन देकर एक-एक विकेट चटकाया। मुंबई की तीन मैचों में यह पहली जीत है। उसे पहले मैच में राजस्थान रायल्स के हाथों शिकस्त झेलनी पड़ी थी जबकि उसका पिछला मैच बारिश की भेंट चढ़ गया। दूसरी तरफ लायंस की तीन मैचों में यह लगातार दूसरी हार है जबकि उसका भी एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था। लक्ष्य का पीछा करने उतरे मुंबई की शुरुआत खराब रही और उसने तीसरे ओवर में ही सलामी बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (05) का विकेट गंवा दिया जो सोहेल तनवीर की धीमी और सीधी गेंद को पूरी तरह चूककर बोल्ड हो गए।

स्मिथ ने इसके बाद जिम्मेदारी भरी बल्लेबाजी की। उन्होंने तनवीर पर छक्का जडऩे के बाद लोनवाबो सोतसोबे पर भी लगातार दो छक्के जड़े। दिनेश कार्तिक ने भी हार्डस विलजोएन की गेंद को दर्शकों के बीच पहुंचाया। लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने कार्तिक को बैकर्वड प्वाइंट पर कप्तान अल्वीरो पीटरसन के हाथों कैच कराके मुंबई को दूसरा झटका दिया। कप्तान रोहित शर्मा भी 17 गेंद में 20 रन के बनाने के बाद ड्वेन प्रिटोरियस का शिकार बने। उन्होंने स्मिथ के साथ 43 रन जोड़े।

स्मिथ ने हालांकि एक छोर संभाले रखा। उन्होंने विलजोएन और ताहिर पर दो-दो चौके मारे, ताहिर की गेंद पर एक रन के साथ 33 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। मुंबई को अंतिम सात ओवर में जीत के लिए 47 रन की दरकार थी। अगले तीन ओवर में सिर्फ 11 रन बने जिससे बल्लेबाजों पर कुछ दबाव बना। पोलार्ड ने विलजोएन की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़कर रन और गेंद के बीच के अंतर को कम किया। उन्होंने अगले ओवर में प्रिटोरियस पर भी दो छक्के जड़कर टीम को जीत की दहलीज तक पहुंचाया। तनवीर ने इसके बाद वाइड गेंद फेंककर मुंबई की जीत सुनिश्चित की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You