तेलंगाना पर मंत्री समूह की बैठक कल

  • तेलंगाना पर मंत्री समूह की बैठक कल
You Are HereNational
Friday, October 18, 2013-7:50 PM

नई दिल्ली : आंध्र प्रदेश के विभाजन पर विचार करने के लिए गठित मंत्री समूह नदी जल, बिजली के बंटवारे, परिसंपत्तियों के वितरण एवं सीमाओं के मुद्दे पर कल अपनी दूसरी बैठक में चर्चा करेगा। उच्चस्तरीय मंत्री समूह यह सुनिश्चित करने के कानूनी एवं प्रशासनिक उपायों पर भी विचार करेगा कि तेलंगाना और सीमांध्र दोनों ही राज्य साझा राजधानी हैदराबाद से प्रभावशाली ढंग से काम कर सकें। दस साल तक हैदराबाद दोनों राज्यों की साझा राजधानी होगी।

गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह का गठन उन सभी मुद्दों के समाधान के उद्देश्य से किया गया था, जिन्हें केन्द्र और राज्य सरकार के स्तरों पर किया जाना है। मंत्री समूह की पहली बैठक 11 अक्तूबर को हुई थी। मंत्री समूह ने कहा है कि वह आंध्र प्रदेश की जनता की सभी चिन्ताओं का समाधान निष्पक्षता से करेगा। मंत्री समूह ने खुद की ओर से अपनायी जाने वाले रूख और तौर तरीकों पर पहले ही चर्चा कर ली है और कहा है कि वह अपनी सिफारिशें तैयार करने से पहले सभी महत्वपूर्ण विषयों पर सभी संबद्ध पक्षों की राय लेगा।

 मंत्री समूह के निर्देश के बाद विभिन्न केन्द्रीय मंत्रालय एवं विभाग मसलन बिजली और जल संसाधन मंत्रालयों ने स्थिति रिपोर्ट तैयार की है और ये रिपोर्ट कल समूह को सौंपे जाने की उम्मीद है। स्थिति रिपोर्ट मिलने के साथ ही मंत्री समूह परिसंपत्तियों के बंटवारे के लिए व्यापक रूपरेखा तैयार कर सकता है। इसके अलावा वह सीमांध्र क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज के बारे में भी विचार करेगा। मंत्री समूह ने अपने कार्यक्षेत्र को लेकर आम जनता की प्रतिक्रिया भी मांगी है। मंत्री समूह के दो महत्वपूर्ण सदस्य वित्त मंत्री पी चिदंबरम और रक्षा मंत्री ए के एंटनी पिछली बैठक में शामिल नहीं हो सके थे

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You