शारदा घोटाले में मुझे बेवजह घसीटा जा रहा है : कुणाल घोष

  • शारदा घोटाले में मुझे बेवजह घसीटा जा रहा है : कुणाल घोष
You Are HereNational
Saturday, October 19, 2013-8:06 PM

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के चर्चित चिटफंड शारदा घोटाले की जटिलताओं में संलिप्तता के संदेह का सामना कर रहे तृणमूल कांग्रेस के निलंबित राज्यसभा सदस्य कुणाल घोष को लगता है कि प्रशासन उन्हें बेवजह इस मामले में घसीट रहा है। पुलिस ने इस मामले में उन्हें फिर से पूछताछ के लिए बुलाया है।

बिधाननगर स्थित पुलिस आयुक्त कार्यालय पर घोष ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘देखना है कि उनके पास अब और क्या मुझसे पूछने के लिए रह गया है। मैं ऐसा महसूस कर रहा हूं कि मैं वह अकेला व्यक्ति हूं जो सुदीप्त सेन (शारदा के गिरफ्तार प्रोमोटर) को जानता हूं।’’ इस बड़े वित्तीय घोटाले में घोष के सिर सुदीप्त सेन ने ही दोष मढ़ा है। उनसे जांच अधिकारी ने गुरुवार और शुक्रवार को नई दिल्ली में पूछताछ की थी।

सेन ने घोष पर भयादोहन करने और आपराधिक तत्वों के साथ उनके कार्यालय में घुसकर सेन के स्वामित्व वाले मीडिया हाउस को बेचने के लिए जबरन करार कराने का आरोप लगाया है। घोष शारदा की मीडिया शाखा के प्रमुख रह चुके हैं। उन्होंने बार-बार दोहराया है कि उन्हें इस मामले में ‘बलि का बकरा’ बनाया जा रहा है। घोष ने घोटाले की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराने की मांग की है। सीबीआई ने हालांकि इस मामले में हाथ नहीं डाला है, लेकिन अन्य केंद्रीय एजेंसियां प्रवर्तन निदेशालय, एसएफआईओ और सेबी मामले की जांच में जुटी हुई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You