चुनाव में थार क्षेत्र में बढ़ रही वंशवाद की राजनीति

  • चुनाव में थार क्षेत्र में बढ़ रही वंशवाद की राजनीति
You Are HereNational
Sunday, October 20, 2013-3:33 PM

बाडमेर: राजस्थान में आगामी एक दिसम्बर को होने वाले विधानसभा चुनाव में सीमांत एवं थार क्षेत्र बाडमेर में वंशवाद की राजनीति बढती नजर आ रही हैं। बाडमेर में वंशवाद की राजनीति कम ही रही हैं लेकिन इस बार चुनाव में बुजुर्ग हो रहे नेता अपने परिवार के सदस्यों को राजनीति में आगे करने लगे है और इस बार आगामी चुनाव में कई नेताओं के परिवार के सदस्यों ने अपनी दावेदारी जताई हैं।

गठजोड की राजनीति के लिए मशहूर बाडमेर जिले में आठ बार विधायक रहे गंगाराम चौधरी की पोती प्रियंका चौधरी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से  बाडमेर सीट के लिए दावेदारी की हैं। चौधरी जिले में गुढामालानी से चार, बाडमेर से तीन एवं चौहटन से एक बार विधायक रह चुके हैं। इसी तरह चौहटन से छह बार विधायक रहे अब्दुल हादी के बेटे गफूर खां और बहू शम्मा खान राजनीति में सक्रिय हैं। गफूर राज्यमंत्री और उप जिला प्रमुख रहे है और शम्मा चौहटन प्रधान हैं। इस बार शिव से दोनों ने कांग्रेस की टिकट की दावेदारी की है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You