मप्र: 2008 में 21 विधानसभा क्षेत्रों में जीत के मतों का अंतर 1000 से भी कम

  • मप्र: 2008 में 21 विधानसभा क्षेत्रों में जीत के मतों का अंतर 1000 से भी कम
You Are HereNational
Monday, October 21, 2013-2:42 PM

भोपाल: मध्यप्रदेश में वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में राज्य की 230 विधानसभा सीटों में से 21 सीटें ऐसी रहीं जहां विजयी मतों का अंतर बहुत कम था। चुनावी आंकड़ों के अनुसार, इन क्षेत्रों में उम्मीदवारों की जीत का अंतर 1000 वोटों से भी कम था। वर्ष 2008 के चुनाव में धार विधानसभा क्षेत्र में वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री विक्रम वर्मा की पत्नी नीना वर्मा मात्र एक वोट से विजयी घोषित हुई थीं।

 

दूसरे नंबर पर आने वाले कांग्रेस के बालमुकुंद गौतम ने इसको लेकर लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी और अदालत ने अंतत: नीना वर्मा का निर्वाचन रद्द कर गौतम को विधायक पद की शपथ दिलाने के निर्देश दिए। गौतम ने हाल ही में विधानसभा की सदस्यता ग्रहण की। वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश में कई बड़े नेताओं ने अत्यंत कम मतों के अंतर से जीत हासिल की थी। इनमें सबसे पहला नाम कद्दावर मंत्री जयंत मलैया का है, जिन्होंने पिछले चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार को मात्र 130 मतों से हराया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You