लालू की तरह नीतीश में मोदी को रोकने की हिम्मत नही : राबड़ी

  • लालू की तरह नीतीश में मोदी को रोकने की हिम्मत नही : राबड़ी
You Are HereNational
Tuesday, October 22, 2013-12:06 AM

पटना : बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनतादल(राजद) की नेता राबड़ी देवी ने आज कहा कि विधि व्यवस्था के लिए चुनौती बने श्री लालकृष्ण आडवाणी के रथ को जिस तरह से वर्ष 1990 में तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने रोक दिया था उस तरह की हिम्मत मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार पटना आ रहे श्री नरेन्द्र मोदी को रोकने में नहीं दिखा पा रहे है।

श्रीमती राबड़ी देवी ने यहां कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के इशारे पर देश में साम्प्रदायिक उन्माद पैदा करने के लिए जब 1990 में श्री आडवाणी ने रथ यात्रा शुरू की तब उनके रथ को उस समय के बिहार के मुख्यमंत्री ने रोक कर उन्हें गिरफ्तार किया था। उन्होंने कहा कि आज एक बार फिर संघ श्री मोदी को आगे रखकर देश में साम्प्रदायिक उन्माद पैदा करना चाहता है लेकिन श्री कुमार में बिहार आ रहे श्री मोदी को रोकने की हिम्मत नही है।
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हुंकार रैली और उसमें श्री मोदी के आने से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पक्ष में कोई असर पडऩे वाला नही है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता जानती है कि भाजपा और श्री कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड (जदयू) आपस में मिली हुई है। दोनो पार्टियों को आगामी चुनाव में जनता सबक सिखायेगी। श्रीमती राबड़ी देवी ने कहा कि लक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार के सभी सजायाफ्ताओं को उच्च न्यायालय से बरी किये जाने के कारण दलितों और महादलितों में दहशत व्याप्त है। उन्होंने कहा कि लक्ष्मणपुर बाथे में 58 दलितों की हत्या हुई है इसलिए इस मामले में सभी आरोपियों के बरी हो जाने के बाद सरकार को बताना चाहिए कि आखिर दोषी कौन है।
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि राजद के सभी कार्यकर्ता और नेता श्री यादव के दिशानिर्देश पर पार्टी को मजबूत करने में जुटे है। उन्होंने कहा कि छठ पर्व के बाद वह खुद जनता के बीच जायेंगी और चारा घोटाले में श्री यादव को फंसाने की साजिश में शामिल लोगों को बेनकाब करेंगी ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You