पुलिस कर रही थी बेवजह परेशान, तो ट्रेन के सामने लगा दी छलांग

  • पुलिस कर रही थी बेवजह परेशान, तो ट्रेन के सामने लगा दी छलांग
You Are HereNational
Tuesday, October 22, 2013-1:33 PM

कानपुर: शहर के ग्रामीण इलाके चौबेपुर में एक विकलांग व्यक्ति ने चलती ट्रेन के सामने कूद कर आत्महत्या कर ली। उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उसने पुलिस उत्पीडऩ की बात लिखी है। वहीं उसके घर वालों का भी आरोप है कि पुलिस उसे बेवजह परेशान कर रही थी इसलिये उसने यह कदम उठाया वही दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि वह चरस नशे का आदी था और इस चक्कर में उसका घर में झगड़ा होता रहता था।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि चौबेपुर के बंदी माता मंदिर के पास कल देर शाम शिबली के रहने वाले विकलांग व्यक्ति संतोष मिश्रा (उम्र करीब 40 वर्ष) ने फर्रूखाबाद की ओर से आ रही एक तेज रफ्तार ट्रेन के सामने छलांग लगा दी जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसके पास से सुसाइड नोट मिला है जिसमें उसने आरोप लगाया है कि वह एक पैर से विकलांग है और पुलिस उसके उपर फर्जी मुकदमे लगा रही थी तथा आए दिन पूछताछ के लिये पुलिस स्टेशन ले जाकर उसे प्रताडि़त करती है। इससे परेशान होकर वह आत्महत्या कर रहा है ।

मिश्रा के घर वालों ने भी पुलिस उत्पीडऩ की बात कही। दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि मिश्रा चरस नशे का आदी था और इस नशे के बाद वह अपनी पत्नी और बच्चों को पीटता था जिसकी शिकायत पुलिस स्टेशन में आई थी। पुलिस ने तब उसको बुलाकर थाने में समझाया गया था। पुलिस ने उसका कोई भी उत्पीडऩ नही किया था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज मामले की जांच आरंभ कर दी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You