केन्द्र सरकार पतंजलि के विरूद्ध रोज नए षडयंत्र रच रही है: रामदेव आश्रम

  • केन्द्र सरकार पतंजलि के विरूद्ध रोज नए षडयंत्र रच रही है: रामदेव आश्रम
You Are HereNational
Tuesday, October 22, 2013-4:10 PM

हरिद्वार: पतंजलि योगपीठ के एक पूर्व कर्मचारी को बंधक बनाकर यातना देने के आरोप को साजिश करार देते हुए बाबा रामदेव के प्रमुख प्रवक्ता तिजारावाला ने कहा कि केन्द्र सरकार पतंजलि के विरूद्ध रोज नए षडयंत्र रच रही है।

तिजारावाला ने आज पूरी घटना का ब्यौरा देते हुए कहा कि नितिन त्यागी नामक ड्राईवर 25 लाख रूपए मूल्य के कलपुर्जे और अन्य कीमती सामान चुरा कर दो वर्ष पूर्व पतंजलि फेज 2 से नौकरी छोडकर भाग गया था। उसे सोमवार सुबह दोबारा पतंजिल फेज-2 के भीतर कुछ गतिविधि करते पकडऩे पर तुरंत पुलिस को सूचना दी गयी किन्तु पुलिस नहीं आयी।

तिजारावाला के अनुसार सुरक्षा व्यवस्था को चकमा देकर अंदर घुसे चोरी के आरोपी नितिन को पुलिस के आने तक रोके रखा गया और जब पुलिस देर शाम तक नहीं आयी तो आश्रम के कर्मचारी खुद नितिन को पुलिस के हवाले करने जा रहे थे जिसपर पुलिस ने बाहर सड़क पर नितिन को हिरासत में लेते हुए उल्टे हम पर ही मुकदमा कायम कर दिया । उन्होंने कहा, ‘‘हमें तो भय है कि उपर के दबाव पर हमें विभिन्न तरीकों से बदनाम किया जाएगा ।’’

इस बीच कनखल थाना क्षेत्र के सी ओ चंद्रमोहन सिंह नेगी के अनुसार रई छपरा उत्तर प्रदेश के रहने वाले नितिन त्यागी को पतंजलि फेज-2 से छुड़ाया गया है। अभी सारे मामले में एक व्यक्ति रमेश मलिक को गिरफ्तार किया गया है तथा मामले की विवेचना जारी है । बाबा रामदेव के भाई राम तरत और पतंजलि के विरूद्ध गांव रई थाना छपरा ,जिला मुजफ्फरनगर के रहने वाले नितिन के परिजनों ने अपहरण और बंधक बनाकर मारपीट का केस दर्ज करवाया है ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You