बस स्टॉप पर खड़ी लड़की को कार में लिफ्ट देकर किया गैंगरेप

  • बस स्टॉप पर खड़ी लड़की को कार में लिफ्ट देकर किया गैंगरेप
You Are HereNational
Wednesday, October 23, 2013-12:50 PM

हैदराबाद: हैदराबाद में गैंगरेप का एक घिनौना हादसा हुआ। दफ्तर से घर जा रही लड़की बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रही थी कि तभी एक टैक्सी ड्राइवर ने उसे ड्रॉप करने की बात की और उसे हॉस्टल के बजाय जंगल में ले गया और उसके साथ रेप किया। जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद के साइबराबाद इलाके के एक मॉल में किसी सॉफ्टवेयर फर्म में टेक्निकल एक्सपर्ट के तौर पर काम करने वाली अभया शाम 7:30 बजे अपना काम खत्म कर हॉस्टल के लिए निकली। वह बस से स्टॉप तक पहुंची और दूसरे रूट की बस का इंतजार करने लगी कि तभी रात 8:45 पर एक वॉल्वो कार वहां रुकी। इस कार में दो युवक बैठे थे।

ड्राइवर ने लड़की से जाने को पूछा और 40 रुपए किराए की बात पर अभया कार में बैठ गई। लेकिन कार सवार युवक उसे हॉस्टल के बजाए पास में मेडक जिले के जंगलों में ले गए और कार में उसके साथ रेप किया। इसके दो घंटे बाद रात 10:50 पर जब युवक कार के बाहर टहल रहे थे, तो अभया ने मौका पाकर अपने बेंगलुरु में रह रहे बॉयफ्रेंड को फोन किया, परंतु दुर्भाग्यवश युवको को उसकी आवाज सुन गई और उन्होंने उसका फोन छीन लिया। इसके बाद अभया का बॉयफ्रेंड उसे लगातार फोन करता रहा, परंतु जब कोई जवाब न मिला तो उसने हैदराबाद में अपने दोस्तों से पुलिस में शिकायत दर्ज करवाने को कहा। शिकायत मिलने पर पुलिस अभया की खोज करने लगी तो पता चला कि एक कार अभया को रात 1:45 पर उसके हॉस्टल के बाहर ड्रॉप कर चली गई।

पुलिस जब अभया से पूछताछ करने हॉस्टल पहुंची, तो इस हादसे से डरी हुई अभया ने उन्हें किडनैपिंग की कहानी बताई। परंतु अभया के कपड़ों पर खून और संघर्ष के निशान देखकर पुलिस को उसकी बात पर यकीन नहीं हुआ। इसके बाद अगली सुबह हर चीज गुप्त रखने के यकीन मिलने पर अभया ने पुलिस को सब सच बताया कि उसके साथ रेप गैंगरेप हुआ हैं। इसके बाद पुलिस ने रेपिस्टों के रूट पर बने बिडला स्कूल के सीसीटीवी कैमरे से कार की फुटेज देखी और साइबराबाद पुलिस ने नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की मदद से कार के मॉडल की पहचान की। परंतु कार का नंबर समझ न आने पर पुलिस ने हैदराबाद की हर वोल्वो कार की तलाश करनी शुरू कर दी।

शहर में वॉल्वो एस60 मॉडल की कुल 77 कारों में एक कार एक कारोबारी ने ट्रैवल एजेंसी से किराए पर ली थी, जोकि शहर से बाहर था। इसलिए पुलिस को शक हुआ कि यह काम ड्राइवर का हो सकता हैं। इसके बाद पुलिस ने आरोपियो को पकड़ लिया। साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर सीवी आनंद ने बताया कि पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्हें विश्वास था कि लड़की पुलिस में शिकायत नहीं करेंगी। परंतु लड़की ने थोड़ी झिझक के बाद पुलिस को सब सच बता दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You