शकील अहमद ने कहा, डॉ हर्षवर्धन के नाम के ऐलान से कोई फर्क नहीं

  • शकील अहमद ने कहा, डॉ हर्षवर्धन के नाम के ऐलान से कोई फर्क नहीं
You Are HereNational
Wednesday, October 23, 2013-8:05 PM

नई दिल्ली: दिल्ली में आज बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक खत्म हो गई हैं। दिल्ली में शीला के सामने बीजेपी के सीएम पद के उम्मीदवार के रूप में हर्षवर्धन को खड़ा किया गया हैं। वहीं इस फैसले को लेकर राजनिति में नेताओं की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई है।

कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी शकील अहमद ने कहा, डॉ हर्षवर्धन के नाम के ऐलान से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। बीजेपी हमारे लिए कोई चुनौती नहीं है।

अरुण जेटली ने कहा कि विजय गोयल नाराज नहीं है। उन्होंने एक सच्चे कार्यकर्ता की तरह काम किया। प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर वे पार्टी की जीत के लिए काम करेंगे। जेटली ने कहा कि हर्षवर्धन साफ-सुथरी छवि के नेता हैं। उन्हें उम्मीदवार बनाए जाने से पार्टी को फायदा होगा।

दिल्ली विधानसभा के चुनाव के लिए हर्षवर्धन को भाजपा का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाये जाने से उनकी मां लता गोयल काफी खुश हैं। भाजपा की संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद डा. हर्षवर्धन को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाये जाने के बाद उनकी मां ने कहा कि वह बहुत खुश हैं।

बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने विजय गोयल की तारीफ में कहा कि हर्षवर्धन ने दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर अच्छा काम किया हैं। बैठक में राजनाथ सिंह ने कहा कि सर्वसम्मति से हर्षवर्धन के नाम का ऐलान किया गया हैं।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने हर्षवर्धन को सीएम प्रत्याशी बनाए जाने पर बधाई दी और कहा कि विजय गोयल ने भी पार्टी के संसदीय बोर्ड का फैसला माना हैं।

हर्षवर्धन के खिलाफ कृष्णानगर सीट से आप नेता कुमार विश्वास चुनाव लड़ेंगे। आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस बार चुनाव ईमानदारी पर लड़ी जाएगी। उन्होंने कहा चुनाव से ठीक एक महीने पहले बीजेपी को भी अपना भ्रष्ट नेता बदलना पड़ा।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You