न मैंने इस्तीफा दिया और न ही दूंगा, फैसले से खुश हूं: विजय गोयल

  • न मैंने इस्तीफा दिया और न ही दूंगा, फैसले से खुश हूं: विजय गोयल
You Are HereNational
Wednesday, October 23, 2013-4:14 PM

नई दिल्ली: आज से पहले तक अपने को मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार के रूप में पेश कर रहे दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष विजय गोयल ने कहा कि हर्षवर्धन को इस पद का उम्मीदवार बनाए जाने से वह ‘‘खुश’’ हैं और आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी को विजयी बनाने के लिए वह कड़ी मेहनत करते रहेगे।

भाजपा संसदीय बोर्ड द्वारा हर्षवर्धन को पार्टी का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने के सर्वसम्मत निर्णय की घोषणा के बाद गोयल ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि संसदीय बोर्ड ने मुख्यमंत्री के रूप में हर्षवर्धन को पेश करने का फैसला किया है। जीत सुनिश्चित करने के लिए मैं कड़ी मेहनत करूंगा।’’

अपने को पार्टी का ‘‘अनुशासित सिपाही’’ बताते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस को हराने के लिए पार्टी एकजुट होकर लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे कोई निराशा नहीं है। हम एक हैं। मैं हमारी जीत के प्रयास में कोई कसर बाकी नही रखूंगा।’’ पिछले सप्ताह गोयल ने विभिन्न जनमत सर्वेक्षणों का हवाला देते हुए खुद को पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर सबसे लोकप्रिय नेता होने का दावा किया था।


उन्होंने गुजरे रविवार को भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह और पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी से भेंट करके हर्षवर्धन को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की कवायद का कड़ा विरोध किया था। बताया जाता है कि गोयल द्वारा स्वयं को मुख्यमंत्री पद का सबसे उपयुक्त उम्मीदवार बताए जाने से प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर के कई भाजपा नेता खासे नाराज हो गए और इससे पासा हर्षवर्धन के पक्ष में पलट गया।  खबरें हैं कि हर्षवर्धन के साथ गोयल के सौहार्दपूर्ण रिश्ते नहीं हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You