पूरा देश चाहता है कि युद्ध न हो : उमर अब्दुल्ला

  • पूरा देश चाहता है कि युद्ध न हो : उमर अब्दुल्ला
You Are HereNational
Thursday, October 24, 2013-10:00 AM

तंगधार: जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आज अत्यंत सख्त रवैया अख्तियार करते हुए कहा कि शांति और भाईचारा तभी कायम हो सकता है जब दोनों पक्षों में इच्छा शक्ति हो। मौजूदा तनावग्रस्त माहौल पर ङ्क्षचता जताते हुए उमर ने कहा कि पूरा देश चाहता है कि युद्ध न हो लेकिन भाईचारा तभी कायम हो सकता है जब पाकिस्तान भी प्रयास करे।

सीमा पर तीन तरफ से पाकिस्तानी सेनाओं से घिरे तंगधार में आज दोपहर एक जनसभा में उमर ने कहा कि भारत-पाकिस्तान के सभी मुद्दों का हल निकालने के लिए वह अपना संघर्ष जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि सीमा पर पुन: भाईचारा एवं शांति कायम होने की वह दुआ करते हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी मसले को हल करने के लिए युद्ध ठीक नहीं है।

इससे केवल विनाश एवं विपदा ही आती है। उमर ने कहा कि भारत पाकिस्तान के बीच 2003 में हुआ संघर्ष विराम समझौता जम्मू-कश्मीर एवं सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए सबसे बडा तोहफा था लेकिन पाकिस्तान की तरफ से बार-बार होने वाले संघर्ष विराम उल्लंघनों ने स्थितियों को पुन. तनावपूर्ण एवं असामान्य कर दिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You