राजधानी, शताब्दी की रफ्तार होगी 200 के पार

  • राजधानी, शताब्दी की रफ्तार होगी 200 के पार
You Are HereNational
Thursday, October 24, 2013-2:33 PM

नई दिल्ली : रेलवे ने वर्तमान आधारभूत ढांचे में ही राजधानी, शताब्दी और दूरंतो जैसी ट्रेनों की रफ्तार में इजाफा करके 160 से 200 किलोमीटर प्रतिघंटा करने की तैयारी शुरू कर दी है। 

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अरुणेन्द्र कुमार ने आज यहां बताया कि दिल्ली-हावड़ा, दिल्ली-मुम्बई, दिल्ली-अमृतसर, दिल्ली-चेन्नई, चेन्नई-बेंगलूर, मुम्बई-पुणे, मुम्बई-अहमदाबाद, हावड़ा-पुरी जैसे मार्गों पर गाडिय़ों की रफ्तार में 40 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटा की वृद्धि किए जाने की संभावना है।  उन्होंने बताया कि उच्च गति रेलवे परियोजना अत्यंत खर्चीली है और उनके लिए निजी क्षेत्र अथवा विदेशी निवेश आवश्यक होगा। इसके लिए समय भी बहुत लगेगा लेकिन देश के प्रमुख रेलमार्गों की क्षमता के हिसाब से उन पर आज भी सैमी हाई स्पीड ट्रेन चलाना संभव है।

हालांकि इसकी समय सीमा बताने से इन्कार किया लेकिन संकेत दिए कि 1-2 साल के भीतर ही कुछ मार्गों पर राजधानी और शताब्दी एक्सप्रैस ट्रेनों की रफ्तार 200 किलोमीटर प्रतिघंटा तक बढ़ा दी जाएगी। श्री कुमार के अनुसार दिल्ली-मुम्बई मार्ग पर राजधानी एवं अगस्त क्रांति राजधानी गाडिय़ों की रफ्तार बढ़ा कर दोनों शहरों के बीच 3 घंटे तक का समय आराम से बचाया जा सकेगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You