आसाराम ने गुजरात की एक अदालत में जमानत याचिका दायर की

  • आसाराम ने गुजरात की एक अदालत में जमानत याचिका दायर की
You Are HereNational
Thursday, October 24, 2013-4:27 PM

अहमदाबाद: सूरत की रहने वाली दो बहनों द्वारा आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं के खिलाफ दर्ज यौन उत्पीडऩ के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने में हुई देरी का हवाला देते हुए आसाराम ने गुजरात की एक अदालत में जमानत याचिका दायर की है। आसाराम के वकील बी एम गुप्ता ने कहा, ‘‘हमने गांधीनगर की सत्र अदालत में नियमित जमानत के लिये याचिका दायर की है। आज संभवत: इस मामले की सुनवाई हो सकती है।’’ गुप्ता ने कहा कि आसाराम के खिलाफ दर्ज शिकायत ‘मनगढ़ंत’ थी और उनके खिलाफ लगाए गए आरोप ‘झूठे’ हैं।

पिछले सप्ताह 72 वर्षीय आसाराम को ट्रांजिट रिमांड पर जोधपुर से यहां लाया गया था। इसके बाद, गांधीनगर की मजिस्ट्रेट अदालत ने उन्हें सात दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया था और इस दौरान अहमदाबाद पुलिस ने उनसें गहन पूछताछ की। उन्हें कल वापस जोधपुर ले जाया गया।  अहमदाबाद पुलिस का एक विशेष जांच दल आसाराम के खिलाफ दर्ज यौन उत्पीडऩ के मामले की जांच कर रहा है।

दोनों बहनों में से बड़ी बहन का आरोप था कि 1997 से 2006 के बीच जब वह अहमदाबाद के बाहरी इलाके में स्थित आसाराम के आश्रम में रह रही थीए तब आसाराम ने कई बार उसका यौन उत्पीडऩ किया।  वहीं छोटी बहन ने आसाराम के बेटे नारायण सार्इं के खिलाफ शिकायत दर्ज कराकर आरोप लगाया था कि 2002 से 2005 के बीच जब वह नारायण के सूरत स्थित आश्रम में रह रही थी, तब साईं ने कई बार उसका यौन उत्पीडऩ किया था।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You