शीला ने की विनती- प्याज की जमाखोरी ना करें

  • शीला ने की विनती- प्याज की जमाखोरी ना करें
You Are HereNational
Thursday, October 24, 2013-5:37 PM

नई दिल्ली: विधानसभा चुनाव से पहले आसमान छूती महंगाई और प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर इन दिनों सभी की चिंतित है। ऐसे में दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित भी इस मुद्दे पर खूब विचार-विमर्श कर रहीं है। गुरुवार को सीएम ने इस मुद्दे पर कृषि मंत्री शरद पवार और खाद्य मंत्री के वी थॉमस से मिलीं। मुलाकात के बाद शीला दीक्षित ने माना कि वास्तव में प्याज की महंगाई को लेकर लोग परेशान हैं।

उन्होंने बताया कि फिलहाल दिल्ली सरकार ने वैन पर सस्ते प्याज बेचने की योजना टाल दी है। इसके लिए चुनाव आयोग से इजाजत ली जाएगी।

शीला ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र के सीएम से भी बात की है। उन्होंने मदद का भरोसा दिया है। दिल्ली सरकार के कुछ अधिकारी भी इसी सिलसिले में महाराष्ट्र गए हुए हैं। नासिक और कोल्हापुर से करीब एक हजार टन प्याज दिल्ली पहुंचने वाला है।

साथ ही सीएम ने कहा कि ज्यादा बारिश होने की वजह से प्याज की फसल बबाज़्द हुई है। दिल्ली वालों को भरोसा देते हुए उन्होंने कहा प्याज की कीमतें जल्द कम होंगी.

प्याज की कालाबाजारी को लेकर दिल्ली की मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मैं प्रार्थना करती हूं कि व्यापारी प्याज की जमाखोरी ना करें और ऐसी स्थिति का फायदा ना उठाएं.

केजरीवाल की चुनौती पर शीला का बयान
शीला दीक्षित ने कहा, ‘मैं केजरीवाल का जवाब नहीं दूंगी।’ ‘आप’ के नेता अरविंद केजरीवाल ने दीक्षित को खुलेआम चुनौती दी कि वे उनसे किसी सार्वजनिक मंच पर बहस करें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You