‘प्रसिद्धि के भूखे हैं केजरीवाल और रामदेव’

  • ‘प्रसिद्धि के भूखे हैं केजरीवाल और रामदेव’
You Are HereNational
Friday, October 25, 2013-9:13 AM

नई दिल्ली: खुली बहस के लिए दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को दिए गए आम आदमी पार्टी के नेता के आमंत्रण को ‘प्रसिद्धि पाने का टंटा’ बताकर खारिज करते हुए कांग्रेस ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल भी योग गुरुबाबा रामदेव की भांति ‘प्रसिद्धि के भूखे’ हैं।  पार्टी प्रवक्ता मीम अफजल ने कहा, ‘‘बाबा रामदेव और अरविन्द केजरीवाल में ज्यादा फर्क नहीं है। दोनों प्रसिद्धि के भूखे हैं । वह ऐसे सभी मुद्दे उठाना चाहते हैं जिससे उन्हें मीडिया में स्थान मिले।’’ केजरीवाल द्वारा खुली बहस के लिए मुख्यमंत्री को औपचारिक रूप से आमंत्रित करने के मुद्दे पर पूछे गए प्रश्न पर वह प्रतिक्रिया दे रहे थे। इस बहस में लोग भी हिस्सा ले सकते हैं और सीधे प्रश्न पूछ सकते हैं।

अफजल ने कहा कि ऐसा पत्र कोई भी लिख सकता है और पिछले दो वर्ष में आप नेता ने जो भी आरोप लगाए हैं उनमें से कई का सरकार ने जवाब भी दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘चुनाव ज्यादा दूर नहीं हैं । चुनाव के वक्त वह जो भी प्रश्न पूछ रहे हैं सभी सिर्फ प्रसिद्धि पाने का टंटा है ।’’ मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को लिखे एक पत्र में केजरीवाल ने कहा है, ‘‘मैं आपको यह पत्र इसलिए लिख रहा हूं क्योंकि कुछ संपादकों ने सलाह दी है कि मैं आपको औपचारिक रूप से आमंत्रित करूं । मैं आपको औपचारिक रुप से आमंत्रित करता हूं और यदि आप सही समझें तो भाजपा की ओर से हिस्सा लेने के लिए हमें डॉक्टर हर्षवर्धन को भी कहना चाहिए।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You