शिबू सोरेन के समय माफिया चला था कोयला मंत्रालय: पीसी पारख

  • शिबू सोरेन के समय माफिया चला था कोयला मंत्रालय: पीसी पारख
You Are HereNational
Friday, October 25, 2013-12:33 PM

नई दिल्ली: कोयले घोटाले के मामले में पूर्व कोयला सचिव पीसी पारख की एक और चिट्ठी सामने आई है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को मार्च, 2005 में लिखी गई इस चिट्ठी में पारख ने कहा था कि कोयला मंत्रालय को माफिया चला रहे हैं।

 गौरतलब है कि उस वक्त के कोयला मंत्री शिबु सोरेन ने पारख पर नेताओं को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया था। सोरन इस बात से भी नाराज थे कि पारख उनके मौखिक आदेश नहीं मानते थे। कैबिनेट सचिव को 2005 में लिखी चिट्ठी में पारख ने कहा था कि मुझे खेद है कि जो सांसद संविधान की शपथ लेते हैं वो आईएएस अफसरों और सार्वजनिक निगमों के अफसरों को अपनी जरूरतों के लिए ब्लैकमेल करने में लगे हुए हैं। ये देश का दुर्भाग्य है कि देश में ऐसा कोई सिस्टम नहीं है जो ऐसे नेताओं की गलत हरकतों पर लगाम लगा सके।

अपनी चिट्ठी में पारख ने यह भी लिखा था कि चाहे बात कोयला मंत्रालय की हो, कोल इंडिया की हो या फिर राजनीति की, हर जगह माफिया की घुसपैठ है और उनसे निपटने का एक ही तरीका है और वह है कोयला उद्योग में संरचनात्मक बदलाव लाना। पूर्व कोयला सचिव पीसी पारख पर हाल ही में सीबीआई ने एफआईआर दर्ज की है। सीबीआई का आरोप है कि हिंडाल्को को जो कोल ब्लॉक आवंटित किया गया है, वह अवैध तरीके से किया गया।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You