मुजफ्फरनगर दंगों की जांच अब सीबीआई से जरुरी: भाजपा

  • मुजफ्फरनगर दंगों की जांच अब सीबीआई से जरुरी: भाजपा
You Are HereNational
Friday, October 25, 2013-11:51 AM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के मुजफ्फरनगर दंगे के पीडितों से पाकिस्तानी खुफिया एजेन्सी आईएसआई के सम्पर्क साधने सम्बन्धी बयान और उत्तर प्रदेश के मंत्री समूह की सद्भावना समिति की रिपोर्ट आने के बाद दंगों की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) से कराने की जरुरत बतायी है। भाजपा ने कहा कि गांधी का बयान देश की सुरक्षा से जुड़ा हुआ है इसलिए इसकी जांच केन्द्रीय जांच सीबीआई से कराना नितान्त आवश्यक है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव की अध्यक्षता में बनी दस मंत्रियों की सद्भावना समिति की रिपोर्ट से भी कई सवाल खड़े होते हैं।

रिपोर्ट के अनुसार मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन राजनीतिक दबाव में था। दंगों के नियंत्रण में राजनीतिक हस्तक्षेप और एकतरफा कार्रवाई की बात भी सामने आयी है। ऐसे में प्रदेश की जांच एजेन्सी पर भी दबाव पड सकता है इसलिए सीबीआई से इसकी जांच जरुरी है। उन्होंने कहा कि सीबीआई की जांच से दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। गांधी के कथन की भी जांच हो जाएगी इसलिए देश हित में पूरे मामले को सीबीआई के सुपुर्द किया जाना चाहिए। इस बीच कांग्रेस ने इस पर सीधे कुछ न कहते हुए सिर्फ इतना कहा कि गांधी का बयान तथ्यों से परे हो ही नहीं सकता। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने कहा कि नेहरु, गांधी परिवार ने हमेशा देश हित की बात की है। देश के लिए कुर्बानी दी है इसलिए गांधी के बयान को गंभीरता से लिया जाना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You