बस्तर की राजनीति में राजमहल फिर एक बार सुर्खियों में

  • बस्तर की राजनीति में राजमहल फिर एक बार सुर्खियों में
You Are HereNational
Friday, October 25, 2013-4:37 PM

जगदलपुर: बस्तर की राजनीति में राजमहल एक बार फिर सुर्खियों में है। राजपरिवार के सदस्य कमलचंद्र भंजदेव भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सक्रिय सदस्य बन चुके हैं वहीं राजमाता की कांग्रेस प्रत्याशी से बंद कमरे में गोपनीय मुलाकात और कांग्रेस प्रत्याशी का दावा राजनैतिक गलियारों में सुर्खियां बटोर रहा है। गाजेबाजे और अपने सैकडों समर्थकों के साथ गुरुवार की दोपहर नामांकन दाखिल करने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी सामूराम कश्यप ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि वे राजमहल गए थे जहां उनकी राजमाता कृष्णाकुमारी देवी से मुलाकात हुई।

 

यह पूछे जाने पर कि क्या यह चर्चा राजनीतिक थी सामू ने कहा कि वे इस बात को मीडिया से शेयर नहीं करेंगे। राजपरिवार के सदस्य कमलचंद्र की भाजपा में सक्रियता और राजमाता की कांग्रेसियों से मुलाकात के बारे में सामू कहते हैं कि राजमहल के सदस्यों में मतैक्य है या नहीं ये तो वे ही बता सकते हैं अलबत्ता राजमाता और राजमहल का समर्थन कांग्रेस को प्राप्त हुआ है। यह दावा कांग्रेस प्रत्याशी जरूर कर रहे हैं। सामू के इस बयान से बस्तर संभाग की इकलौती सामान्य सीट पर अब समीकरण बदलने के आसार नजर आ रहे हैं।

 

जगदलपुर प्रत्याशी संतोष बाफना के साथ चित्रकोट सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल करने पहुंचे बैदूराम कश्यप बता रहे हैं कि उनके विधानसभा क्षेत्र में अब कोई मनमुटाव नहीं है। रूठे हुए लोगों को मना लिया गया है और अब सब मिलकर उन्हें जितवाएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You