ज्यादा बच्चे पैदा करें हिन्दू : आरएसएस

  • ज्यादा बच्चे पैदा करें हिन्दू : आरएसएस
You Are HereNational
Sunday, October 27, 2013-4:32 PM

नई दिल्ली:  आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ) के महासचिव दत्तात्रेय होसाबले ने शनिवार को कहा कि हिन्दू परिवारों को सोसायटी में जनसांख्यिकी संतुलन बिगडऩे से रोकने के लिए 3 बच्चों पर ध्यान फोकस करना चाहिए। आरएसएस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मीडिया को संबोधित करते हुए दत्तात्रेय ने कहा कि जनसांख्यिकी संतुलन धर्म परिवर्तन, जन्म दर में गिरावट और बांग्लादेशी घुसपैठ की वजह से बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। उन्होंने कहा कि देश के खास हिस्सों में अल्पसंख्यकों के मुकाबले हिन्दू परिवारों में जन्म दर लगातार घट रही है। इस वजह से जनसांख्यिकी संतुलन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

उन्होंने कहा कि परिवार नियोजन किसी एक ही समुदाय में लागू नहीं होना चाहिए। संतुलित विकास के लिए जनसांख्यिकी संतुलन कायम रहना बेहद जरूरी है। दत्तात्रेय ने दावा कि हिन्दू परिवारों में 0-6 साल के बच्चों का ग्रोथ रेट 15 पर्सेंट है जबकि मुस्लिमों में 18 पर्सेंट है। उन्होंने साथ यह भी कहा कि एलीट हिन्दुओं को परिवार नियोजन पर एक बार फिर से विचार करना चाहिए। वन चाइल्ड नॉम्र्स की वजह से हमारे पास पर्याप्त यूथ नहीं हैं कि वे आम्र्ड फोर्स जॉइन कर सकें।

दत्तात्रेय होसाबले ने गुजरात के मुख्यमंत्री और बीजेपी के प्रधानमंत्री प्रत्याशी नरेंद्र मोदी द्वारा देवालय से पहले शौचालय वाले बयान पर कहा कि दोनों समान रूप से जरूरी हैं। इस पर कोई सवाल ही नहीं उठता कि देवालय पहले या शौचालय पहले। आरएसएस ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मुस्लिम चरमपंथ और सीमा सुरक्षा पर प्रस्ताव भी पारित किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You