आरक्षित कोटे के लिए चलाया जाए विशेष अभियान : अनुसूचित जनजाति आयोग

  • आरक्षित कोटे के लिए चलाया जाए विशेष अभियान : अनुसूचित जनजाति आयोग
You Are HereNcr
Sunday, October 27, 2013-7:11 PM

 नई दिल्ली: ( भाषा )  राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग ने नौकरियों में इस वर्ग के लोगों के लिए आरक्षित कोटे से ‘बहुत कम’ हिस्सेदारी होने पर चिंता जताते हुए कहा है कि इस पर समयबद्ध कार्ययोजना बनाने और 7.5 फीसदी के कोटे को पूरा करने के लिए सरकार की तरफ से विशेष अभियान की आवश्यकता है। 

 आयोग ने अपनी छठी रिपोर्ट में कहा है कि जहां प्रथम श्रेणी और द्वितीय श्रेणी की नौकरियों में अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों की संख्या बहुत कम है तो वहीं चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों में भी इनकी मौजूदगी संतोषजनक नहीं है। आयोग ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि कार्मिक प्रशिक्षण विभाग को इस मामले को सभी केंद्रीय मंत्रालयों एवं विभागों के समक्ष उठाना चाहिए।

 इस रिपोर्ट को आयोग के अध्यक्ष रामेश्वर ओरावं और सदस्य बी एल मीना ने शुक्रवार को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के सामने भी रखा था। इसके साथ ही आयोग ने बैंकों में अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों की कम हिस्सेदारी पर भी चिंता व्यक्त की है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You