उड़ान से पूर्व अल्कोहल युक्त उत्पादों के इस्तेमाल पर वैन

  • उड़ान से पूर्व अल्कोहल युक्त उत्पादों के इस्तेमाल पर वैन
You Are HereNational
Monday, October 28, 2013-4:25 PM

नई दिल्ली: डीजीसीए ने फैसला लिया कि अब पायलट उड़ान पर जाने से पहले अल्कोहल ही नहीं बल्कि अल्कोहल युक्त किसी भी उत्पाद का सेवन और इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। फैसले के तहत डीजीसीए ने एक ड्राफ्ट नोट तैयार कर आखिरी सुझावों के लिए जारी कर दिया है।

इस ड्राफ्ट नोट के तहत पायलटों को उड़ान पर जाने से पहले कफ  सीरप, माउथ वॉश और टूथ जेल जैसे उत्पादों के इस्तेमाल पर रोक लगाने का सुझाव दिया है। डीजीसीए ने नए नियमों के तहत घरेलू उड़ान पर जाने वाले पायलटों के साथ-साथ विदेशों से उड़ान भरने वाले पायलटों पर भी लागू करने का फैसला लिया है।

डीजीसीए के अनुसार उड़ान से 12 घंटे पहले तक शराब का सेवन नहीं किए जाने का प्रावधान है। ड्राफ्ट नोट के जरिए सभी पायलटों को निर्देश दिया है कि उड़ान से पहले अल्कोहल युक्त किसी भी दवा और उत्पाद का इस्तेमाल न करें। डीजीसीए ने उड़ान से पहले शराब सेवन की मेडिकल जांच को अनिवार्य करते हुए सभी पायलटों को चिकित्सा विशेषज्ञों से परामर्श लेने के लिए भी कहा है।

पकड़े जाने पर 3-5 वर्ष तक का प्रतिबंध:
डीजीसीए ने कहा कि दोषी पाए गए पायलट पर तीन माह से दो वर्ष तक का प्रतिबंध लग सकता है। पहली बार दोषी पाए जाने पर पायलट को तीन माह तक और दूसरी बार दोषी पाए जाने पर दो वर्ष तक उड़ान पर जाने की इजाजत नहीं मिल सकेगी। वहीं तीसरी बार पकड़े जाने पर पांच वर्षों तक का प्रतिबंध भी लग सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You