मेरे ट्वीट के पीछे कोई राजनीति नहीं: थरूर

  • मेरे ट्वीट के पीछे कोई राजनीति नहीं: थरूर
You Are HereNational
Monday, October 28, 2013-4:49 PM

नर्इ दिल्ली: केंद्रीय मंत्री शशि थरूर के ट्वीट ‘पटना में भाजपा की रैली से जुड़ी हिंसा’ की फेसबुक और ट्विटर पर तीखी आलोचना होने के बाद उन्होंने साफ किया कि उनके शोक संदेश का मकसद कोई राजनीति टिप्पणी करना नहीं था। इससे पहले थरूर ने कल शाम 6:12 बजे ट्वीट किया था, ‘‘पटना में भाजपा रैली से जुड़ी हिंसा में मारे गए पांच लोगों के परिवारों और 60 घायलों के प्रति गहरी संवेदना है। राजनीति विचारों के बारे में होनी चाहिए।’’
 
थरूर के इस ट्वीट को लेकर उनके फेसबुक और ट्विटर अकाउंट पर एक किस्म का वाक्युद्ध सा छिड़ गया, जहां कई लोग अपनी नाराजगी का इजहार कर रहे हैं। उन्होंने थरूर पर तथ्यों को ‘तोडऩे मरोडऩे’ का आरोप लगाया और इसके औचित्य पर भी सवाल खड़ा किया। हालांकि इस बीच वहां कुछ ऐसे भी लोग थे, जो कह रहे थे कि केंद्रीय मंत्री की टिप्पणी का सही अर्थ समझना चाहिए।
 
अपनी टिप्पणी से गलत संदेश जाता देख केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री ने कुछ ही देर बाद शाम 6:5& बजे ट्वीट करते हुए कहा कि ‘भाजपा रैली से जुड़ी हिंसा’ का अर्थ ‘भाजपा की रैली के कारण हुई हिंसा’ नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘मेरे शोक संदेश का मकसद कोई राजनीतिक टिप्पणी करना नहीं था।’’

गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है, जब थरूर अपने ट्वीट को लेकर विवादों में घिरे हैं। केंद्रीय मंत्री के ट्विट को लेकर इससे पहले भी सोशल वेबसाइटों पर तीखी प्रतिक्रिया होती रही है और कई बार इससे पैदा हुए राजनीतिक विवादों के कारण उनकी पार्टी कांग्रेस को उनके ट्वीट से किनारा करना पड़ा था। थरूर ने जहां पटना में हुए बम धमाकों में को लेकर की गई अपने ट्वीट पर सफाई दी है, वहीं कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी मोदी की रैली के दिन हुए विस्फोट पर आश्चर्य व्यक्त किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You