'राहुल गांधी के बयान का हो रहा परीक्षण'

  • 'राहुल गांधी के बयान का हो रहा परीक्षण'
You Are HereNational
Tuesday, October 29, 2013-9:32 PM

भोपाल: मुख्य निर्वाचन आयुक्त वी.एस. संपत ने यहां कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी की इंदौर रैली के दौरान आए उनके बयान का परीक्षण किया जा रहा है और जरूरत पड़ी तो कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आदर्श चुनाव आचार संहिता की अवधि में राजनीति के साथ धर्म, जाति व योग का घालमेल नहीं किया जा सकता।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 25 नवंबर को होना है। विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा के लिए भोपाल आए मुख्य निर्वाचन आयुक्त संपत ने मंगलवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि इंदौर में राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान की शिकायत भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने की है।

उन्होंने कहा कि प्रतिनिधिमंडल की शिकायत पर निष्पक्ष परीक्षण कराया जा रहा है और जरूरत पड़ी तो कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने माना कि इंदौर के जिला निर्वाचन अधिकारी की रिपोर्ट उन्हें राज्य के निर्वाचन पदाधिकारी के जरिए मिल गई है। कमल के फूलों को लेकर आई शिकायत व उन्हें ढके जाने के सुझाव पर आयोग का मत है कि ऐसा किया जाना संभव नहीं है। इतना जरूर है कि अगर हाल ही में ऐसी कोई प्रतिमा स्थापित की जाती है, जिसमें कमल का फूल होगा तो उस पर आयोग जरूर विचार करेगा।

विभिन्न समाचार चैनलों और समाचार पत्रों में आ रहे सर्वेक्षणों को लेकर पूछे गए सवाल पर संपत ने कहा कि मतदान से 48 घंटे पहले इस तरह का ओपीनियन पोल आदि का प्रसार नहीं किया जा सकता, इससे पहले प्रसारित किए जाने वाले सर्वेक्षणों पर कानूनन रोक नहीं है। संपत ने कहा कि राज्य के 60 विधानसभा क्षेत्र चुनाव के खर्च को लेकर गंभीर है। धनबल के उपयोग को लेकर भी आयोग गंभीर है। चुनाव में राशि के परिवहन पर विशेष नजर रखने के लिए आयकर विभाग के साथ उडऩदस्ते सक्रिय हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि बीते रोज उनसे विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मिले। उन्हें सत्ताधारी दल के प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि पार्टी कार्यकर्ताओं व आम आदमी को आचार संहिता के नाम पर परेशान किया जा रहा है। इसके अलावा विरोधी दल ने सत्ता पक्ष पर सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाया। संपत ने बताया कि राजनीतिक दलों ने जो शिकायतें की हैं, उसकी उन्होंने समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे समय से तथा आवश्यक कार्रवाई करें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You