‘नीतीश सरकार कर रही है वोट बैंक की राजनीति’

  • ‘नीतीश सरकार कर रही है वोट बैंक की राजनीति’
You Are HereNational
Wednesday, October 30, 2013-11:21 AM

बेंगलूर: भाजपा ने बिहार की नीतीश कुमार सरकार पर ‘वोट बैंक की राजनीति’ में शामिल रहने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह यासीन भटकल की गिरफ्तारी के मौके को भुनाने और आतंकी माड्यूल पर शिकंजा कसने में नाकाम रही है। पार्टी प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बिहार सरकार भटकल को हिरासत में ले सकती थी क्योंकि खुफिया ब्यूरो ने नेपाल, बिहार सीमा पर उसका पता लगाया था। उन्होंने कहा, ‘‘दरभंगा और मधुबनी माड्यूल को लेकर उस पर शिकंजा कसा जा सकता था। राष्ट्रीय फर्ज निभाने की बजाय उसने (राज्य सरकार ने) निर्णय लेने की प्रक्रिया पर वोट बैंक की राजनीति को हावी होने दिया और बिहार मेंं मौजूद इसे और अन्य माड्यूल को खत्म करने का मौका गंवा दिया।’’ 

जावड़ेकर ने कहा कि आखिरकार एनआईए को भटकल की गिरफ्तारी के लिए जाना पड़ा। राज्य पुलिस उसकी गिरफ्तारी की गोपनीयता को कायम नहीं रख सकी और इस तरह उसके सहयोगियों को अपने ठिकाने से भागने का मौका दे दिया गया। उन्होंने कहा, ‘‘पटना बम विस्फोटों के मुख्य साजिशकर्ता तहसीन के मंगलोर स्थित अपने ठिकाने से भागने के आधे घंटे के अंदर उन्होंने भटकल की गिरफ्तारी की खबर टीवी पर सुनी। मंगलोर से वह पुष्कर और रांची गया तथा इन विस्फोटों की साजिश रची। यह बिहार पुलिस की नाकामी है। ’’

जावड़ेकर ने कहा कि गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने पटना बम विस्फोटों की जानकारी होने के बावजूद एक फिल्म पार्टी में शरीक होकर असंवदेनशीलता का प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि आज भी वह (शिंदे) इस बारे में स्पष्ट रूप से नहीं बता रहे हैं कि खुफिया ब्यूरो ने विशेष अलर्ट जारी किया था या नहीं। आईबी ने राहुल गांधी को नियमित रूप से जानकारी दी और गृह मंत्री को सूचना नहीं दी जिसे रिपोर्ट करना चाहिए था।’’ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की इस टिप्पणी पर कि शिंदे का पटना के अलावा भी कोई जीवन है, जावड़ेकर ने कहा, ‘‘तब उन्हें (शिंदे को) मंत्रालय से इस्तीफा दे देना चाहिए। उनका मंत्रालय से बाहर का भी जीवन हो सकता है।’’

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You