जयपुर मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में होगी केन्द्र की हिस्सेदारी

  • जयपुर मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में होगी केन्द्र की हिस्सेदारी
You Are HereNational
Thursday, October 31, 2013-10:52 AM

नई दिल्ली: केन्द्रीय कैबिनेट ने आज अपनी बैठक में केन्द्र सरकार द्वारा जयपुर मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में हिस्सेदारी खरीदने संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। केन्द्र जयपुर मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (जेएमआरसी) में भी उसी तर्ज पर हिस्सेदारी खरीदेगा जैसा कि उसने दिल्ली मेट्रो और देश के अन्य मेट्रो नेटवर्क में खरीदी है।

सूत्रों ने बताया कि आज केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। हालांकि राजस्थान में चुनावी आचार संहिता लागू होने के कारण इस आशय में घोषणा नहीं की गई है।

जयपुर में मेट्रो रेल नेटवर्क बिछाने के लिए कंपनी अधिनियम के तहत एक जनवरी 2010 को जेएमआरसी का गठन हुआ। शुरूआती दिनों में राजस्थान सरकार ने इसे खुद बनाने का निर्णय लिया था जिसमें केन्द्र की कोई भागीदारी नहीं होगी।

सूत्रों ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा जयपुर मेट्रो को करीब 630 करोड़़ रूपए मिलने की संभावना है। राजस्थान सरकार भी करीब इतनी ही राशि मेट्रो में लगा रही है।

सूत्रों ने बताया कि जयपुर मेट्रो के पहले चरण की कुल लंबाई 12.067 किलोमीटर है। इसमें मानसरोवर से चांदपोल तक का 9.278 किलोमीटर का एलेवेटेड मेट्रो और चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक 2.789 किलोमीटर का भूमिगत मेट्रो शामिल है । इसमें आठ एलेवेटेड और तीन भूमिगत स्टेशन होंगे ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You