सरदार पटेल ने 1947 दंगों के दौरान मुस्लिमों को बचाया था: थरूर

  • सरदार पटेल ने 1947 दंगों के दौरान मुस्लिमों को बचाया था: थरूर
You Are HereNational
Friday, November 01, 2013-8:35 AM

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी पर राजनीतिक लाभ के लिए सरदार पटेल के नाम का उपयोग करने का आरोप लगाते हुए केन्द्रीय मंत्री शशि थरूर ने आज कहा कि पटेल ने वर्ष 1947 दंगों के दौरान हजारों मुस्लिमों की जान बचाई थी। थरूर ने इस टिप्पणी के जरिये मोदी के शासन में हुए वर्ष 2002 गुजरात दंगों की परोक्ष रूप से तुलना की।

उन्होंने  प्रधानमंत्री पद के लिए भाजपा के उम्मीदवार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह (पटेल) गांधीवादी थे और महात्मा के अनन्य भक्त थे। मुझे यह बात सुनकर अफसोस है कि कुछ लोग अपनी राजनीतिक स्वार्थों के लिए जंग के मैदान के तौर पर उनके नाम का उपयोग कर रहे हैं।

उन्होंने एक कार्यक्रम के इतर कहा कि तथ्य यह है कि सरदार पटेल की धर्मनिरपेक्षता सभी भारतीयों, सभी धर्मों, सभी जातियों के लिए असली स्वाभाविक गांधीवादी करूणा में निहित थी। पटेल की विरासत हथियाने के मोदी के कथित प्रयासों के बारे में थरूर ने कहा कि यह ‘शर्म’ की बात है कि उनका नाम आज विभाजन के लिए प्रयोग हो रहा है जबकि उन्होंने हमारे देश में एकता को बढावा देने के लिए सबसे ज्यादा प्रयास किया।

थरूर ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में वर्ष 1947 में दंगों के दौरान, पटेल ने सैकड़ों मुस्लिमों को लालकिले में रखा और वे उनकी रक्षा के लिए पुणे और मद्रास प्रांत से सेना को बुलाकर लाए। उन्होंने कहा कि वह हिन्दू दंगाइयों को संदेश देने के लिए निजामुददीन में दुआ करने गए थे।

थरूर ने कहा कि वह अमृतसर गए और गुस्साए तथा भावुक हिन्दुओं और सिखों को इस बात पर मनाने गये कि वे हमारे देश से पाकिस्तान जा रहे शरणार्थियों पर हमले नहीं करें। पटेल की इस तरह की धर्मनिरपेक्षता है। आलोचक मोदी पर आरोप लगाते हैं कि उन्होंने वर्ष 2002 दंगों को रोकने के लिए पर्याप्त प्रयास नहीं किये। इन दंगों में एक हजार से अधिक लोग मारे गए थे जिनमें ज्यादातर मुस्लिम थे। थरूर ने कहा कि पटेल राष्ट्रीय नेता और एक महान कांग्रेसी नेता थे। उन्होंने कहा कि तथ्य यह है कि भीमराव अंबेडकर को अपवाद स्वरूप छोड़कर ज्यादातर हिस्सों में हमारे राष्ट्रवाद के हीरो कांग्रेस पार्टी के हैं। वह पार्टी के सांगठनिक कार्य में बहुत सक्रिय थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You