बचाव पक्ष ने कहा, सर्जिकल ब्लेड से नहीं किया जा सकता गहरा घाव

  • बचाव पक्ष ने कहा, सर्जिकल ब्लेड से नहीं किया जा सकता गहरा घाव
You Are HereNational
Friday, November 01, 2013-10:06 AM

गाजियाबाद: आरुषि-हेमराज हत्याकांड के मामले में बचाव पक्ष के वकील ने कल सीबीआई की अदालत में दलील दी कि दोनों के गले में सर्जिकल ब्लेड से गहरा घाव नहीं किया जा सकता था।

राजेश एवं नुपूर तलवार के वकील तनवीर अहमद मीर ने सीबीआई की सर्जिकल ब्लेड वाली दलील पर सवाल खड़े हुए करते हुए कहा कि आरुषि और हेमराज का पोस्टमार्टम करने वाले नरेश राज और सुनील डोहरे ने अपने पहले के बयानों में कभी नहीं कहा कि दोनों का गला सर्जिकल ब्लेड से काटा गया था। मीर ने अदालत से कहा कि जांच एजेंसी अक्तूबर, 2009 से पहले कभी भी इस तरह की दलील लेकर सामने नहीं आई।

उन्होंने कहा कि डोहरे और नरेश एम्स की विशेषज्ञ समिति के समक्ष उपस्थित हुए थे और उस वक्त उन्होंने सर्जिकल ब्लेड के इस्तेमाल किए जाने की किसी भी अशंका को व्यक्त नहीं किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You