छोटे स्टेशनों पर अब टिकट नहीं बेचेंगे स्टेशन मास्टर

  • छोटे स्टेशनों पर अब टिकट नहीं बेचेंगे स्टेशन मास्टर
You Are HereNational
Friday, November 01, 2013-12:08 PM

नर्इ दिल्ली: सुरक्षा उपायों को मजबूत करने के लिए रेलवे ने छोटे स्टेशनों पर स्टेशन मास्टर को टिकट बचेने के काम में नहीं लगाने का फैसला किया है तांकि वे केवल ट्रेन संचालन पर ही ध्यान केंद्रित कर पाएं। रेल मंत्रालय के फैसले के मुताबिक छोटे स्टेशनों पर स्टेशन मास्टर और सहायक स्टेशन मास्टर अब टिकट बेचने की जिम्मेदारी से मुक्त हो जाएंगे।

फिलहाल छोटे स्टेशनों पर बुकिंग क्लर्क नहीं तैनात किए गए हैं तथा वहां स्टेशन मास्टर एवं सहायक स्टेशन मास्टर ही टिकट बेचने के लिए जिम्मेदार होते हैं। स्टेशन मास्टर के दोहरे कार्य को सुरक्षा के लिहाज से सही नहीं समझा जा रहा है। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हम कुछ उन खास स्टेशनों पर स्टेशन टिकट बुकिंग सेवक (एसटीबीएस) नियुक्त करेंगे जिन्हें ई श्रेणी के स्टेशन के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

एसटीबीएस स्टेशनों पर टिकट बेचेंगे तथा स्टेशन मास्टर इस जिम्मेदारी से मुक्त होंगे, फलस्वरूप वे ट्रेन संचालन के लिए पूरी तरह जिम्मेदार होंगे।’’जिन स्टेशनों का सालभर का कारोबार पांच लाख रूपए से कम है उसे ई श्रेणी का स्टेशन कहा जाता है और देश कुल 8495 रेलवे स्टेशनों में 4158 ऐेसे स्टेशन हैं। हालांकि एसटीबीए रेलवे कर्मचारी नहीं होंगे, वे कमीशन के आधार पर काम करेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You