कांग्रेस के 5 विधायकों की पेशी

  • कांग्रेस के 5  विधायकों की पेशी
You Are HereNcr
Friday, November 01, 2013-1:20 PM

नई दिल्ली (ताहिर सिद्दीकी): कांग्रेस के 5 विधायकों को इलाके के पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इस मसले पर वीरवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के आवास पर बुलाई गई मीटिंग में इनका मामला पार्टी हाईकमान को सौंपने का फैसला किया गया। इसमें शीला सरकार के 2 कैबिनेट मंत्री भी शामिल है। पार्टी के अंदरूनी सर्वे में भी इनकी स्थिति कमजोर बताई गई है। सूत्रों के अनुसार इसी तरह 8 और विधायकों की पेशी होनी बाकी है। 

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार नरेला के विधायक जसवंत सिंह राणा, राजेंद्र नगर के रमाकांत गोस्वामी, मालवीय नगर की प्रो. किरण वालिया, कस्तूरबा नगर के नीरज बसोया तथा पटेल नगर के राजेश लिलोठिया को अपने-अपने इलाके में भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। पार्टी के स्थानीय नेता और कार्यकर्ता  इनका विरोध कर रहे हैं। वे हाईकमान तक गुहार लगा चुके हैं कि अगर इन्हें टिकट दिया गया तो कांग्रेस का हारना तय है। इस मामले को सुलटाने के लिए वीरवार को प्रदेश अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल के आवास पर मीटिंग बुलाई गई। 

इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष के अलावा मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की मौजूदगी में पांचों विधायकों से वन-टू-वन बात की गई। विधायकों के सामने उनके विरोधियों को बिठाया गया। सूत्रों के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष तथा मुख्यमंत्री के सामने संबंधित विधायकों की मौजूदगी में उनके इलाके के पार्टी नेताओं ने जमकर भड़ास निकाली। 

 बैठक में संबंधित विधायक के इलाके के ब्लॉक प्रमुखों और पूर्व व मौजूदा पार्षदों को बुलाया गया था। सूत्रों के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष इनमें से 4 सीटों पर नए दमदार प्रत्याशी उतारना चाहते हैं, लेकिन मुख्यमंत्री इसमें अडंग़ा डाल रही हैं। उनका तर्क है कि अगर वे हार गए तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा? वैसे भी गोस्वामी और वालिया मुख्यमंत्री के करीबियों में शुमार हैं। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You