सैनिटेशन के चक्कर में निगम अधिकारी भूले डेंगू

  • सैनिटेशन के चक्कर में निगम अधिकारी भूले डेंगू
You Are HereNcr
Friday, November 01, 2013-3:50 PM

नई दिल्ली: पहला कदम रखने से पहले ही दूसरा कदम उठा कर गिरना कोई दिल्ली नगर निगम से सीखे। दिल्ली नगर निगम डेंगू से निपटने में तो नाकाम रहा, विशेष सैनिटेशन ड्राईव के जरिए लोगों के दिलों में जगह बनाने की कोशिश की तो उसमें भी नाकाम रहा। सैनिटेशन ड्राईव को कामयाब बनाने के लिए निगम के नेताओं और अधिकारियों ने डेंगू, मलेरिया कर्मचारियों को सैनिटेशन ड्राईव में लगा दिया था, जिसके बाद से हालात ये हैं कि सड़कें गंदगी से अटी पड़ी हैं, और अस्पतालों में डेंगू मरीजों से बैड भरे पड़े हैं।

दिल्ली नगर निगम ने 2 अक्तूबर से विशेष सैनिटेशन ड्राईव शुरू की थी जिसके लिए डेंगू, मेलरिया कर्मचारियों को भी सैनिटेशन ड्राईव में लगाया गया था। अब आलम यह है कि न तो डेंगू रुका और न ही इलाकों में सफाई हुई। अधिकारियों की लापरवाही को देखते हुए पूर्वी दिल्ली नगर निगम आयुक्त एस. कुमारस्वामी ने दोनों जोन के अधिकारियों के लिए एक सर्कुलर जारी किया है जिसमें सफाई व्यवस्था के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए अधिकारियों को फटकारा गया है।

मामले में निगम अधिकारियों ने दबी जुबां में बताया कि नेताओं के दबाव में आकर उन्होंने कर्मचारियों की ड्यूटी में फेरबदल किया था। उन्होंने बताया कि नेताओं ने चुनावों के चक्कर में डेंगू,मलेरिया कर्मचारियों को सफाई अभियान में लगा दिया था जिसके चलते डेंगू के मामलों में भयानक तेजी आई। सफाई अभियान और डेंगू दोनों मैदानों में विफल होने पर निगम अधिकारी सामने आकर बोलने को तैयार नहीं है। डेंगू कर्मचारियों की नियुक्ति को लेकर नेताओं का कहना है कि किसी भी डी.बी.सी. कर्मचारियों को सफाई अभियान में नहीं लगाया।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You