हाईप्रोफाइल सीटों पर फैसला करेगा हाईकमान

  • हाईप्रोफाइल सीटों पर फैसला करेगा हाईकमान
You Are HereNcr
Saturday, November 02, 2013-1:14 PM

नई दिल्ली (धनंजय कुमार): दिल्ली विधानसभा चुनाव के  लिए प्रदेश भाजपा ने विवादित और  हाई-प्रोफाइल सीटों पर  फैसला अब केंद्रीय नेतृत्व के  हवाले कर दिया है। इनमें लगभग आधा दर्जन सीटें ऐसी हैं जहां से कोई विधायक  पिता अपने पुत्र के  लिए तो कोई अपने संबंधी के  लिए टिकट मांग रहा है। मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और उनकी मंत्रिमंडल  के  सदस्यों की सीटों पर भी भाजपा को उम्मीदवार चयन करने में परेशानी हो रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के  मुताबिक  पार्टी की ओर से दिवाली के  बाद घोषित होने वाली  उम्मीदवारों की सूची के  लिए प्रदेश चुनाव समिति ने करीब एक  दर्जन सीटों पर एक  नाम और 20 से ज्यादा सीटों पर दो-2 नामों को लेकर सहमति बना ली है। हालांकि  अब भी 30-35 सीटें ऐसी हैं जिन्हें लेकर चुनाव समिति किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई और अब इसके  लिए प्रदेश स्तर पर एक  पैनल का गठन कर नामों की सूची तैयार करने का निर्णय लिया गया है।

वीरवार देर रात तक  चली चुनाव समिति की बैठक  से जुड़े सूत्रों के  अनुसार समिति सदस्य इस बात को लेकर बेहद चिंतित हैं कि  वंशवाद के  खिलाफ  कांग्रेस पर हमला बोलते रहने के  बाद यदि पिता के  नाम पर पुत्र को टिकट दिया जाता है तो उसका लोगों में कहीं गलत संदेश न चला जाए। इन सीटों में मुख्य तौर पर मोती नगर, ग्रेटर कैलाश, हरिनगर और तिलक नगर के नाम शामिल हैं। सबसे ज्यादा परेशानी ग्रेटर कैलाश और मोती नगर सीट को लेकर है।

Edited by:Jeta

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You