व्यवसायी अपहरण मामले में दो बदमाश गिरफ्तार

  • व्यवसायी अपहरण मामले में दो बदमाश गिरफ्तार
You Are HereNational
Monday, November 04, 2013-4:01 PM

नई दिल्ली : दक्षिण जिला के एसटीएफ स्टाफ ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से शाहदरा के  बिजनेस मैन को सकुशल मुक्त करा दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अपहरणकर्ताओं को बिजनेसमैन को छोडऩे के लिए सात लाख की फिरौती मांगी थी। इससे पहले ही पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान न्यू उस्मानपुर निवासी करण पहलवान (37) और दीपक उर्फ दीपू(24) के रूप में हुई है। पुलिस ने उनके पास से एक अमेरिका मेड 9 एमएम की पिस्टल, एक चाकू और स्वीफ्ट कार बमराद की है। दक्षिण जिला के पुलिस उपायुक्त बी.एस.जयसवाल ने बताया कि गत छह अक्तूबर को शाहदरा के बिजनेसमैन जसविंदर सिंह को उनकी स्वीफट कार समेत अपहरण कर लिया था और उसे सकुशल छोडऩे के लिए सात लाख की फिरौती मांगी थी। पुलिस ने पीड़ित परिवार के शिकायत के बाद अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो पता चला कि ट्रांस यमुना में सक्रिय बदमाश करण पहलवान और दीपू ने इस वारदात को अंजाम दिया है।

पुलिस ने उनके नंबर को टै्रप कर जांच शुरू की तो पता चला कि यह लोग सफदरजंग इलाके में छिपे है। सूचना के बाद एसटीएफ के इंस्पेक्टर राजेन्द्र सिंह के नेतृत्व में टीम बनाई और छापामार करण पहलवान और दीपू को दबोच लिया और बिजनेसमैन को सकुशल मुक्त करा लिया।

हत्या समेत कई जधन्य अपराधों को दे चुके हैं अंजाम :
पूछताछ में पता चला कि करण पहलवान ट्रांस यमुना के कृष्णा पहलवान का करीबी दोस्त है। यह लोग दिल्ली में लूटपाट समेत कई अपराधों को अंजाम दे चुके हैं। सिर्फ करण पहलवान पर हत्या,हत्या की कोशिश समेत कई मामले दर्ज है जबकि दीपू पर हत्या की कोशिश की तीन मामले दर्ज हैं। 1995 में पहली बार आरटीवी मालिक चंद्रपाल की हत्या की कर दी थी। सात साल बाद जेल से छूट कर बाहर आया। लेकिन 2003 में वह अपराध शाखा ने उसके साथियों के साथ गिरफ्तार किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You