ओपिनियन पोल बना मजाक, बैन लगाए EC: नरेश अग्रवाल

You Are HereNational
Tuesday, November 05, 2013-3:27 PM

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी नेता नरेश अग्रवाल ने कहा कि ओपिनियन पोल में विश्वसनीयता की कमी होती है। यह मतदाताओं को प्रभावित करता है। यह मजाक बन गया है। इस पर बैन लगना चाहिए। वहीं, बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि हमारी पार्टी ओपिनियन पोल पर बैन लगाने के पक्ष में नहीं है। यह अभिव्यक्ति की आजादी के खिलाफ है। कांग्रेस डर गई है।

इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा था कि ओपिनियन पोल मजाक बन गया है। इस पर रोक लगनी चाहिए। दिग्विजय सिंह ने मांग की है कि ओपिनियन पोल पर रोक लगाई जाए। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि कोई भी पैसे देकर अपने पक्ष में ओपिनियन पोल करा सकता है।

उधर, गुजरात के मुख्यमंत्री और बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को इस रुख को 'बचकाना' करार देते हुए अपने ब्लॉग में लिखा है, 'मेरी चिंता केवल ओपिनियन पोल्स पर बैन लगाने की कांग्रेस की मांग तक ही सीमित नहीं है। कल कांग्रेस चुनाव के समय इसी आधार पर लेख, संपादकीय, ब्लॉग लिखने पर रोक लगाने की मांग कर सकती है। अगर वे चुनाव हार गए तब चुनाव आयोग पर बैन लगाने की मांग कर सकते हैं।'

मोदी ने लिखा, 'अगर अदालतें कांग्रेस के पक्ष में फैसले नहीं देंगी तो वह कह सकती है कि अदालतों पर बैन क्यों नहीं लगा दिया जाए। इस पार्टी ने अदालत के असहज फैसले के जवाब में आपातकाल लगाया था।' नरेंद्र मोदी ने अपने ब्लॉग के जरिए लोगों से कांग्रेस को न केवल ओपिनियन पोल में बल्कि मतदान केंद्र पर भी खारिज करने की अपील की है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You